कांग्रेस के गढ़ में सेंध लगाने में जुटेगी BJP

On Date : 13 October, 2017, 12:42 PM
0 Comments
Share |

चित्रकूट उपचुनाव: तिथि घोषित होते ही बढ़ी सरगर्मी
सतना/भोपाल, ब्यूरो
कांग्रेस की गढ़ माने जाने वाली चित्रकूट विधानसभा के उपचुनाव की तिथि की घोषणा के बाद भाजपा-कांग्रेस में सरगर्मी तेज हो गई है। दोनों ही दलों से आधा-आधा दर्जन नेता टिकट की दावेदारी कर रहे हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान चित्रकूट के कई दौरे कर चुके हैं। उनके अलावा मंत्री राजेंद्र शुक्ल और प्रदेश महामंत्री वीडी शर्मा भी यहां पर खासी मशक्कत कर रहे हैं। कांग्रेस की ओर से नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह का यहां पर फोकस होगा। यह उनके प्रभाव का क्षेत्र माना जाता है। चित्रकूट सीट कांग्रेस विधायक प्रेमसिंह के निधन के चलते रिक्त हुई है। इस सीट पर कांग्रेस की ओर से कई उम्मीदवार सामने आए हैं। कांग्रेस में जीत की जिम्मेदारी नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह पर होगी। यह सीट कांग्रेस खाते की मानी जाती है। इस सीट पर नीलांशु चतुर्वेदी को सबसे मजबूत दावेदार माना जा रहा है। वहीं यहां के विधायक रहे प्रेम सिंह के दामाद संजय सिंह कछवाह भी अपना दावा पेश कर रहे हैं। इनके अलावा कांग्रेस की ओर से दावेदारी करने वालों में जिला उपाध्यक्ष राजेंद्र तिवारी, महिला कांग्रेस की जिला अध्यक्ष रही गीता सिंह और मुन्ना सिंह भी शामिल हैं।
इधर भाजपा की ओर से पिछला विधानसभा चुनाव हारे सुरेन्द्र सिंह गहरवार इस बार भी दावेदारी कर रहे हैं। वहीं डीएसपी की नौकरी से इस्तीफा देकर राजनीति में सक्रिय हुए पन्नालाल अवस्थी भी टिकट मांग रहे हैं। उनकी दो बार सीएम से भी मुलाकात हो चुकी है। टिकट मांगने वालों की कतार में तीसरा नाम दीनदयाल शोध संस्थान से जुड़े भरत पाठक की पत्नी नंदिता पाठक का भी है। नंदिता पाठक के समर्थन में संघ के होने से उनका दावा भी बेहद मजबूत माना जा रहा है। माना जा रहा है कि ब्राह्मण बाहुल्य इस सीट से भाजपा-कांग्रेस दोनों ही ब्राह्मण को टिकट देना चाहती है, जिससे मुकाबला कांटे की टक्कर का होगा।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार