सरकारी पिस्टल जली थी अरक से होगी वसूली

On Date : 14 November, 2017, 1:01 PM
0 Comments
Share |

प्रदेश टुडे संवाददाता,भोपाल
सरकारी आवास में लगी आग से पिस्टल जलने के मामले में लापरवाही उजागर होने पर पुलिस विभाग अब एएसआई के वेतन से उसकी वसूली करेगा। इतना ही नजीराबाद के तत्कालीन थाना प्रभारी को भी दंडित किया जाएगा। यह खुलासा अब तक हुई जांच में हुआ है। पुलिस सूत्रों के अनुसार एएसआई मुन्ना लाल ओझा नजीराबाद में पदस्थ थे। 27 जुलाई 2014 के शासकीय आवास में आग लग गई थी। आग लगने से घर में रखी उनकी सरकारी पिस्टल जल गई थी। घटना की सूचना पर नजीराबाद थाने के तत्कालीन थाना प्रभारी प्रदीप श्रीवास्तव भी मौके पर पहुंचे थे। इसके बावजूद भी एएसआई ने आगजनी का मुकदमा दर्ज नहीं कराया। साथ ही टीआई श्रीवास्तव ने भी कोई कार्रवाई नहीं की। इस मामले की जांच लंबे समय से पुलिस विभाग करवा रहा था। जांच पूरी होने के बाद अब इस मामले में एएसआई ओझा से रिवाल्वर की कीमत उनके वेतन से 42 हजार 844 रुपए काटकर वसूल की जाएगी, साथ ही थाना प्रभारी श्रीवास्तव को दंडित किया जाएगा।
 

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार