चार दिन शक्ल दिखाकर फिर गायब हो गए नाप-तौल वाले

On Date : 19 May, 2017, 3:53 PM
0 Comments
Share |

पेट्रोल पंपों पर लूट-खसोट के साथ फिर चालू हुआ कमीशन का खेल
उप नियंत्रक बीमार, अधीक्षक का फोन बंद-अब कब होंगे दर्शन किसी को नहीं पता
प्रदेशटुडे संवाददाता, जबलपुर

राज्य शासन के निर्देश पर पेट्रोल पंपों पर जांच करने निकला नापतौल विभाग का अमला फिर गायब हो गया है। दो-चार दिन फील्ड पर कार्रवाई के नाम पर दिखावा करने के बाद अब इनके निरीक्षकों का अता-पता नहीं चल रहा है। विभाग में भी ऐसा एक भी सक्षम अधिकारी नहीं है जो बता सके कि उसके निरीक्षक कहां हैं और क्या कर रहे हैं।  उप नियंत्रक नापतौल आरके द्विवेदी ने स्वास्थ्य कारणों को हवाला दे अवकाश पर चले जाने की बात कही तो अधीक्षक विजय नवायत का फोन हमेशा की तरह डिस्कनेक्ट बताया जा रहा है।
उपभोक्ता दिवस पर ही होते हैं दर्शन
बता दें कि जिला प्रशासन के अधीन नाप तौल विभाग का यह अमला केवल उपभोक्ता दिवस पर कलेक्टर कार्यालय में लगने वाली प्रदर्शनी के दौरान ही दिखाई देता है। इसके पहले और इसके बाद साल भर इनके द्वारा क्या कार्रवाई की जाती है, इस पर न तो कभी वरिष्ठ अधिकारी गंभीरता से संज्ञान लेते हैं न ही अमला अपनी ओर से रिपोर्ट सार्वजनिक करता है।
बहानेबाजी में उलझे बेसिक सवाल
पूछे जाने पर इनके आला अधिकारी हमेशा से ही स्टॉफ की कमी और बड़ा बाजार होने का बहाना बनाते आ रहे हैं, लेकिन जितने संसाधन और स्टॉफ उपलब्ध है उसकी कार्य प्रगति क्या है उन्होंने कहां जा कर क्या नापा और तौला है, इसमें कितने प्रकरण बने हैं और कितने प्रकरण क्यों नहीं बने, जो पहले बन चुके हैं उनमें क्या हुआ है इस तरह के बेसिक सवालों का जवाब देने विभाग में किसी की ताकत ही नहीं दिखाई देती।
पिछले एडीएम अक्षय सिंह भी त्रस्त रहे
बता दें कि शासन के विभाग की इस कार्यप्रणाली से त्रस्त होकर एक बार पूर्व अपर कलेक्टर अक्षयसिंह ने फरमान जारी कर प्रति मंगलवार रिपोर्टिंग करने आदेश जारी कर दिया था जो उनके जाते ही ठंडे बस्ते में चला गया। हाल ही में बिरमानी पेट्रोल पम्प पर जब वर्तमान अपर कलेक्टर छोटेसिंह के साथ चीटिंगबाजी हुई तब मजबूरी में अमले को कार्रवाई करना पड़ी।
दूर दड़बे में सबसे नजर बचाकर हो रही नौकरी
सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि विभाग ने अपने खर्च पर रामपुर में एक किराए का मकान ले रखा है जिसमें दफ्तर चलाया जा रहा है। उक्त दफ्तर में भी कौन कब आ रहा है कौन कब जा रहा है इसका अता-पता नहीं चलता। जिला प्रशासन के मुख्यालय कलेक्टर कार्यालय से दूर बैठे होने का फायदा नापतौल विभाग खूब उठाता है और हालत यह होती है कि तीज-त्योहार पर भी इनके दर्शन यदा-कदा ही होते हैं।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

मसाला ख़बरें

रूही सिंह ने सोशल मीडीया पर बिखेर अपने हुस्न के जलवे

मुंबई: फिल्म 'कैलेंडर गर्ल्स' से अपने करियर की शुरुआत करने वाली रूही सिंह इन दिनों अपनी हॉट इंस्टाग्राम...

जैकी श्रॉफ की बेटी ने फिर दिखाई बोल्ड अदाएं

मुंबई: बॉलीवुड अभिनेता जैकी श्रॉफ की बेटी कृष्णा श्रॉफ अपनी तस्वीरों की वजह से सोशल मीडिया चर्चा में...

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार