पड़ाव थाने पर हमला, तोड़फोड़, हवालात में बंद आरोपी को छुड़ाने का प्रयास

On Date : 12 October, 2017, 3:18 PM
0 Comments
Share |

टीआई के चेम्बर की तोड़फोड़, स्टाफ की मारपीट
प्रदेश टुडे संवाददाता, ग्वालियर

पड़ाव थाने पर आज तड़के पांच लोगो ने डंडों और पत्थर से हमला कर दिया। हमलावरों ने हवालात में बंद आरोपी को छुड़ाने का प्रयास किया। बीच में रोकने में आए पुलिस स्टाफ की मारपीट की गई। इसके बाद टीआई के चेम्बर की भी बुरी तरह से तोड़फोड़ कर दी गई।
पड़ाव थाने में तड़के 3.45 बजें मारपीट के मामले में हवालात में बंद सुरेश जाटव के परिजन उससे मिलने थाने पहुंचे। यहां स्टाफ ने उन्हे दोपहर में अने के लिए कहा। जबकि सुरेश का भाई राजेश, जीतू, उसकी मां व पत्नी पुलिस पर उल्टा हाथापाई करने लगे। उन्होने एकाएक पुलिस पर हमला कर दिया। थाने में मौजूद चुनिंदा स्टाफ पर हमलावर भारी पड़ गए। उन्होने सुरेश का छुड़ाने के लिए भरसक कोशिश की। जबकि हवालात की चाभी नही मिली। इससे बौखलाएं लोगो ने थाने में डंडे और पत्थर से तोड़फोड़ करना शुरु कर दी। उन्होने टीआई के चेम्बर को भी नही छोड़ा और यहां केबिन में लगे कांच चकनाचूर कर दिए। हमले के बाद आरोपी फरार हो गए। इसके बाद साढ़े चार बजे पड़ाव थाने के सिपाही प्रमोद शर्मा की शिकायत पर हमलावरों के खिलाफ धारा 353, 332, 186, 337, 336, 427 व 325 बी व 3 आईपीसी के तहत अपराध दर्ज किया है।
रात 11 बजे गिरफ्तार हुआ था सुरेश: पड़ाव थाना पुलिस के पास मरीमाता महलगांव का रहने वाला सुनील वास पहुंचा था। उसने सुरेश जाटव के खिलाफ शराब के लिए पैसे न देने पर मारपीट का मामला दर्ज कराया। पुलिस ने सुरेश जाटव को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ धारा 327, 294, 323 व 506 के तहत कायमी की। रात को इसे छुड़ाने के लिए परिजनो ने थाने पर हंगामा किया और तड़के हमला कर दिया।

इन मामलों मे हाल ही में पुलिस पिटी
*    ग्वालियर थाने के किला गेट पर पिता की मारपीट से परेशान युवक ने आरक्षक की चौराहे पर डंडे से मारपीट की। इसके बाद उसने अपने साथियों के साथ थाने में टीआई के चेम्बर की तोड़फोड़ कर दी।
*    गोला का मंदिर थाने में कल रात मारपीट के मामले में मौके पर पहुंचे एसआई भदौरिया की लोगो ने झूमा झटकी कर दी।
*    पड़ाव थाने की फूलबाग चौकी पर दो युवकों ने शराब के नशे में पुलिस स्टाफ की डंडे से मारपीट की।
इनका कहना है
पड़ाव थाने में घटना हुई है। आरोपियों की पहचान हो चुकी है। अभी उनकी गिरफ्तारी नही हो सकी है।
डॉ आशीष, एसपी ग्वालियर

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार