दाऊद इब्राहिम की संपत्तियों की आज होगी नीलामी

On Date : 14 November, 2017, 10:27 AM
0 Comments
Share |

मुंबई : अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की जब्त की गई संपत्तियां आज नीलाम की जाएंगी. दाऊद की इन संपत्तियों में रौनक अफरोज होटल, डांबरवाला बिल्डिंग और शबनम गेस्ट हाउस प्रमुख है. इसमें रौनक अफरोज होटल के लिए जर्नलिस्ट एस बालाकृष्णन ने पिछली बार 4 करोड़ 28 लाख की बोली लगाई थी, लेकिन वे इस रकम को चुका नहीं सके थे.

जानकारी के मुताबिक, दाऊद इब्राहिम की संपत्तियों की नीलामी चर्चगेट के आईएमसी बिल्डिंग में स्थित किलाचंद कांफ्रेंस रूम में सुबह 10 बजे से 12 के बीच होगी. बताया जा रहा है कि दाऊद की कार खरीदकर उसे आग के हवाले करने वाले स्वामी चक्रपाणी इस नीलामी में जाकर उसकी संपत्तियां खरीदने की तैयारी में हैं.

स्वामी चक्रपाणी ने ऐलान किया कि वे दाऊद की संपत्ति खरीदकर उस पर शौचालय बनवाएंगे. चक्रपाणी तब सुर्ख़ियों में आए थे जब उन्होंने गाजियाबाद में दाऊद की कार पर आग लगवा दी थी. उस वक्त मुंबई में हुई नीलामी में 32 हजार रुपये में उन्होंने कार को खरीदा था. इसके बाद उनकी हत्या की साजिश रची गई थी.

इस मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने दाऊद के दो गुर्गों जुनैद और रॉबिंसन के साथ-साथ 4 लोगों की गिरफ्तार किया था. पुलिस की चार्जशीट में खुलासा हुआ था कि अंडरवर्ल्ड डॉन और छोटा शकील ने कराची में बैठकर हत्या की साजिश रची थी. इसके लिए हवाला के जरिए दिल्ली में पैसे भी पहुंचाए गए थे.

दाऊद इब्राहिम की हिट लिस्ट में उसके दो बड़े दुश्मन सामने आए हैं. इनमें चक्रपाणी महाराज के अलावा दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद डी-कंपनी का दुश्मन छोटा राजन है. दाउद हर हाल में उसे भी मारना चाहता था. लेकिन छोटा राजन के भारतीय एजेंसियों के जरिए गिरफ्तार होने के बाद उसका ये सपना अधूरा ही रह गया.

बताते चलें कि 12 मार्च, 1993 को मुंबई में 13 जगह सीरियल ब्लास्ट हुए थे. इसमें करीब 257 लोगों की मौत हुई थी. 700 लोग गंभीर रूप से जख्मी हुए थे. इन धमाकों का मास्टरमांइड दाऊद इब्राहिम को माना जाता है. तभी से भारत के लिए वह वॉन्टेड है. दाऊद ने पाकिस्तान में पनाह ले रखी है. उसका कारोबार दुनिया के कई देशों में फैला हुआ है.

कई मुल्कों में उसकी संपत्ति है. दाऊद को कई नामों से जाना जाता है, लेकिन मुंबई अंडरवर्ल्ड में लोग उसे 'मुच्छड़' के नाम से जानते थे. भारत से भागने के बाद दाऊद लगातार अपना नाम और पहचान बदलता रहा. कहा जाता है कि हुलिया बदलने के लिए उसने कई बार अपने चेहरे की सर्जरी भी कराई. उसने नाम भी बदल लिया है. यह भारत का सबसे बड़ा मोस्ट वॉन्टेड.

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार