भूलकर भी इस वेबसाइट को न खोलें, हो सकता है बड़ा नुकसान

On Date : 12 February, 2018, 12:21 PM
0 Comments
Share |

नई दिल्ली: ऑनलाइन बैंकिंग ट्रांजैक्शन या इंटरनेट बैंकिंग करने वालों के लिए बड़ी खबर है. इंटरनेट बैंकिंग करते वक्त कई दूसरे बैंकों की वेबसाइट पर क्लिक करते हैं या फिर किसी ऑफर को देखते हैं तो आपको इससे अलर्ट रहने की जरूरत है. आरबीआई ने इसको लेकर एक अलर्ट जारी किया है. दरअसल, आरबीआई का यह अलर्ट एक वेबसाइट को लेकर है. रिजर्व बैंक ने ग्राहकों को उस पर ना जाने की सलाह दी है. आरबीआई ने इस वेबसाइट को फर्जी बताया है. वहीं, सरकारी बैंक ने भी अपने ग्राहकों को इस वेबसाइट का लिंक भी शेयर किया है.

रिजर्व बैंक ने जिस वेबसाइट को फर्जी बताया है, उसे बिल्कुल रिजर्व बैंक की वेबसाइट की तर्ज पर तैयार किया गया है. आरबीआई के चीफ जनरल मैनेजर जोस.जे कट्टूर के मुताबिक, www.indiareserveban.org यूआरएल से रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की फर्जी वेबसाइट बनाई गई है. फर्जी वेबसाइट का ले आउट भी रिजर्व बैंक की ओरिजनल वेबसाइट की तरह है. इसलिए इंटरनेट बैंकिंग या ऑनलाइन ट्रांजैक्शन करते वक्त ग्राहकों को सावधानी बरतनी होगी. यूआरएल को ठीक तरह से चेक करके ही आगे कोई ट्रांजैक्शन करें.

आरबीआई के मुताबिक, फर्जी वेबसाइट के जरिए आपकी बैंकिंग डिटेल्स चोरी हो सकती हैं. आपको लाखों रुपए का चूना लगाया जा सकता है. फर्जी वेबसाइट के होम पेज पर बैंक वेरीफिकेशन विद ऑनलाइन अकाउंट होल्‍डर्स शीर्षक से प्रोविजन है. ऐसा लगता है कि यह सेक्‍शन बैंक के कस्‍टमर की गोपनीय बैंकिंग और पर्सनल डिटेल हासिल करने और फ्रॉड करने के लिए बनाया गया है.

आरबीआई ने यह बात कई बार स्पष्ट की है कि वह बैंक ग्राहकों से बैंक अकाउंट से जुड़ी किसी तरह की कोई जानकारी नहीं मांगता. आरबीआई ने फिर यूजर्स को अलर्ट किया है कि वह किसी भी ग्राहक से बैंक अकाउंट डिटेल, पासवर्ड, पिन नंबर या कार्ड से जुड़ी जानकारियां नहीं मांगता है. ऐसी वेबसाइट को ऑनलाइन कोई जानकारी देना उनके लिए वित्‍तीय तौर पर नुकसानदेह हो सकता है. उनकी डिटेल का मिसयूज किया जा सकता है.

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार