सूखाग्रस्त घोषित हो जिला, मिले पैकेज

On Date : 28 August, 2017, 10:10 PM
0 Comments
Share |

गरजे कांग्रेसी: इतने हितैशी हो तो जिन किसानों ने किश्त जमा नहीं की उन्हे दिलाओ पैसा
प्रदेश टुडे संवाददाता, विदिशा 
लंबे अर्से के बाद किसानों को बीमा की राशि मिलने जा रही है। लेकिन इस राशि का श्रेय भाजपा और प्रदेश के सीएम को दिया जा रहा है इस पर कांग्रेस ने एतराज जताया है जिसके बाद सोमवार को कांग्रेस ने शहर में एक बड़ा प्रदर्शन कर भाजपा सरकार को आड़े हाथों लिया है। साथ ही जिले को सूखा ग्रस्त घोषित कराने की मांग को लेकर माधवगंज से कलेक्टोरेट तक वाहन रैली भी निकाली। इसके साथ ही 30 अगस्त को देवखजूरी में आ रहे सीएम को काले झंडे दिखाने का एलान भी किया। इस वाहन रैली में शहर और ग्रामीण क्षेत्र के नेता किसाना और जनप्रतिनिधि मौजूद थे। रैली के बाद सीएम के नाम ज्ञापन भी दिया है। किसानों को बीमा की राशि दिलाने के लिए कांग्रेस कई बार आंदोलन कर चुकी है। और कुछ दिन पहले हाईवे पर जाम भी किया था इस दौरान प्रशासन ने दिलासा दिया था कि 30 अगस्त तक किसानों को बीमा की किश्त मिल जाएगी। जिसके तहत ही अब सीएम शिवराज सिंह चौहान सहकारी बैंक के एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए देवखूजरी आ रहे है यहां पर किसानों को बीमा की राशि के सर्टिफिकेट भी दिए जाएगें। सोमवार को कांग्रेस का जो प्रदर्शन हुआ उसमें कांग्रेस नेताओं को आरोप है कि बीमा की राशि मंजूर होने में प्रदेश सरकार और सीएम का कोई रोल नहीं है बीमा कंपनी ने किया, किश्त किसानों ने भरी और राशि भी बीमा कंपनी करने वाली दे रही है।
इसमें न तों के्रंद सरकार की भूमिका है और न ही प्रदेश सरकार ही भूमिका है तो इसमे सरकार वाह वाही क्यो लूट रही है। गंजबासौदा विधायक निशंक जैन ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि यदि सीएम खुद को किसानों का हमदर्द मानते है तो वह उन किसानों को भी बीमा की राशि दिलाए जिन किसानों ने पैसों की कमी के चलते फसलों का बीमा नहीं कराया और किश्त जमा नहीं कर पाए हैं। उन्होने कहा किसानों की फसले कई साल से बर्वाद हो रही है जिससे किसान कर्ज में डूबा हुआ है पिछले 6 माह के दौरान जिले के अलग अलग क्षेत्रों में 11 किसानों ने आत्महत्या की है। 
किसी एक भी किसान के घर जा कर सीएम ने दिलासा नहीं दिया है। वहीं कांग्रेस नेता शशांक भार्गव ने कहा कि बीमा कंपनी के पैसा पर प्रदेश के सीएम वाह वाही लूटने के लिए आ रहे हैं यदि उनको वाह वाही लूटने का इतना ही शौक है तो जो वाहनों से एक्सीडेंट होते है ओर क्लेम की राशी मिलती है उसके चैक भी देने के लिए लिए वह आ सकते है। उन्होनें देवखजूरी में आ रहे सीएम का विरोध करने का ऐलान किया साथ ही किसानों से भी अपील की है कि वे इस कार्यक्रम में न जाएं।
 
किसानों की फसलें हुर्इं बर्बाद 
इस बार औसत से बेहद कम बारिश हुई जिसमे चलते किसानों की उड़द, और धान की फसल बर्वाद हो गई कई किसानों ने अपने खेतों में लगी फसलों को उखाड़ कर मवेशियों को खिला दिया है। कांग्रेस नेताओ ने कहा कि पिछले पांच साल से कई बार अधिक बारिश से तो कभी ओला से फसलों को नुकसान हो रहा है। कांग्रेस ने जो आंदोलन किया है उसमें मांग की गई है इस बार कम बारिश को देखते हुए जिले को सूखा ग्रस्त घोषित किया जाए और जिले को विशेष पैकेज दिया जाए। इस मौके पर वीरेंद्र पीतलिया, राकेश कटारे, मोहर सिंह रघुवंशी, महेंद्र वर्मा, मोहित रघुवंशी, अजय कटारे, राजेश दुवे, सुजीत देवलिया, असरफ खान, सुरेंद्र भदौरिया, प्रिंयका किरार,  राजकुमार डिडोत, अंकुर गुप्ता, राजा दशन सक्सेना, सचित भावसार, निशीथ मिश्रा, विजयकांत रैकवार समेत कई लोग मौजूद थे
ओवर ब्रिज पर लगा जाम 
कांग्रेस की रैली जैसे ही माधवगंज से शुरू हुई और अस्पताल के रास्ते से होते हुए ओवर ब्रिज से कलेक्टोरेट जा रही थी इस दौरान ब्रिज पर जाम लगा गया जिससे सैकडों वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ इस बार भी प्रशासन ने किसानों और प्रदर्शन कारियों को कलेक्टोरेट केंपस में आने की इजाजत नहीं दी जिसके चलते बाहर ही सभा करना पड़ी जिसे नेताओं ने संबोधित किया। जिसके बाद सीएम के नाम प्रशासन को ज्ञापन दिया गया। इस दौरान सीएम और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। 

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार