निकाली रैली, जलाए पुतले पुलिस बेबस

On Date : 08 November, 2017, 10:20 PM
0 Comments
Share |

नोटबंदी पर कांग्रेस का हल्ला बोल, भाजपाईयों ने गिनाए फायदे
प्रदेश टुडे संवाददाता विदिशा
2018 के विधानसभा चुनाव नजदीक आते देख राजनीतिक दल भी अपनी चुनावी बिाछात बिछाने लगें हैं। बुधवार को जहां नोटबंदी की सालगिरह पर कांग्रेसी एकजुट नजर आए और अपने आक्रामक तेवरों से सरकार की तीखी आलोचना की तो वहीं भाजपाईयों ने भी चौक चौराहें पर नोटबंदी के फायदों से आम नागरिकों को अवगत करवाया।
इस बार कांग्रेसियों का विरोध का तरीका  भी बदला बदला सा नजर आया और पूरी ताकत के साथ नोटबंदी काला दिवस मनाया। कांग्रेस नेताओं ने पीएम नरेन्द्र मोदी, सीएम शिवराज सिंह चौहान, वित्तमंत्री अरूण जेटली, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के पुतलों के साथ बजरिया जय स्तम्भ चौंक से एक रैली निकाली और शहरवासियों व्यापारियों से सरकार के खिलाफ एक जुट होकर लड़ने की बात कही।
कांग्रेसी रैली के दौरान व्यापारियों से अपील कर रहे थे कि सरकार के खिलाफ खुलकर कांग्रेस के साथ आए। कांग्रेस नेताओं ने एक ट्राले को कांग्रेस रथ के रूप में सजाया जिस पर कांग्रेस के बैनर पोस्टर और कुछ पुतले रखे हुए थे। पोस्टरों पर सरकार के खिलाफ नारे लिखे हुए थे। आक्रामक कांग्रेसी और उनके साथ लोगों का गुस्सा देखते ही बन रहा था। कई कांग्रेसी काले कपड़े पहने हुए थे तो कई काला झंडा और माथे पर काली पटटी बांधे हुए रेली में चल रहे थे। रैली शहर के मुख्य बाजारों से होते हुए माधवगंज चौक पहुंची जहां पुतलों को जलाया और सरकार के नोटबंदी के निर्णय के खिलाफ भाषणबाजी कर रहे थे।
पुलिस मूक बनी रही कांग्रेसियों ने जला दिए पीएम और सीएम के पुतले
कांग्रेस नेता शुरू से ही अपने आक्रामक तैवर अपनाए हुए थे। जैसे ही रैली माधवगंज चौराहे पहुंची तो युवा नेताओं ने पीएम,सीएम, वित्तमंत्री, और भाजपा अध्यक्ष के पुतले को अपने कब्जे में लेकर एक एक करके जलाने लगे उधर वरिष्ठ कांग्रेसी भाषणबाजी करने लगे और पुलिस तमाशबीन बनकर सब कुछ देखती रही। जब पुतला जलने की जानकारी फायरमेन को लगी तो वह तुरंत पुतलों को बुझाने लगा लेकिन कांग्रेसियों के आगे फायरमैन हिम्मत हार गया और मजबूरन वापिस लौट गया। इसके बाद कोतवाली टीआई जितेंन्द्र यादव पुलिसबल के साथ फायरमेन को लेकर पुतला बुझाने पहुुंचे लेकिन टीआई और पुलिसबल कांग्रेसियों के आगे बेबस से नजर आए अतंत: कांग्रेसियों ने चारों पुतले जला दिए और जमकर नारेबाजी कर दी।
फायरमेन बोले पुलिस नहीं करती सहयोग
 कांग्रेसियों द्वारा पुतले जलाए जा रहे थे तभी फायरमेन भगवानसिंह किरार पुतलों को बुझाने नली लेकर पहुंचा तो कांग्रेसियों ने उसे घेर लिया। इस दौरान उसके साथ मारपीट भी कर दी। फायरमेन भगवान बोला कि पुलिस का सहयोग नहीं रहता हैं जिस कारण परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं। जब पुलिस के सरंक्षण में वह काम कर रहा हैं तो उसे मदद करना चाहिए। कांग्र्रेसियों के पुतले जलाने के दौरान उसकी पिटाई हुई और पुलिसकर्मी खड़े खड़े हुए देखते रहे।
 कांग्रेस नेता बोले नोटबंदी सरकार का तुगलकी फरमान
कांग्रेस नेता शंशाक भार्गव ने बताया कि देश में पीएम नरेन्द्र मोदी, और प्रदेश में सीएम शिवराजसिंह चौहान लोगों को बेवकूफ बनाकर जबरन अपने निर्णयों को थोप रहे हैं। नोटबंदी से जनता आज तक नहीं ऊबर पा रही हैं। देश की अर्थव्यवस्था पूरी तरह से चरमरा रही हैं। मोदी सरकार द्वारा नोटबंदी, जीएसटी के फैसले से पूरे देश की जनता परेशान हैं नोटबंदी के दौरान हुई 178 मौते,करौड़ो लोग बेरोजगार हो गए, आर्थिकमंदी बढ़ रही हैं। प्रदेश बलात्कार के नाम पर नंबर वन है भावांतर योजाना से किसानों को गुमराह कर रही हैं। भार्गव ने बताया कि सरकार की नीतियों को वर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
इस दौरान अध्यक्ष डा. मेहताबसिंह यादव,शशांक भार्गव, अशोक ताम्रकार, कमल सिलाकारी, वीरेन्द्र पीतलिया,बसंल जैन, सुरेश मोतियानी, सुरेन्द्र पाल, गुरूमुखदास छुगानी,दीपसिंह रघुवंशी, रणधीरसिंह ठाकुर, देवेन्द्र, राकेश कटारे,अनुज लोधी, दीवानसिंह किरार, लक्ष्मणसिंह रघुवंशी ज्योत्सना यादव, प्रिंयका किरार, डालचंद अहिरवार, रमेश तिवारी, राजेश नेमा, नवनीत कुशवाह, बृजेन्द्र वर्मा,सुरेन्द्र भदोरिया, मोहरसिंह रघुवंशी, आनंदप्रतापसिंह, आशीष माहेश्वरी, सुजीत देवलिया, राजू अवस्थी, दशनराजा सक्सेना, अर्पित्त उपाध्याय, सहित अनेक लोग मौजूद हैं।
आतंकवाद और नक्सलवाद पर लगाम के लिए जरूरी कदम
भाजपाईयों ने चौक चौराहों पर नुक्कड़ सभा कर लोगों को नोटबंदी के फायदे बताए। तीन चौराहों पर जिलाअध्यक्ष भाजपाइयों के कार्यक्रम में पहुंचे। इस दौरान जिलाध्यक्ष दिनेश सोनी ने बताया कि आंतकवाद और नक्सलबाद पर लगाम लगने के लिए नोटबंदी जरूरी थी। पीएम के इस साहसिक निर्णय को आमजन ने तकलीफ होने के बाद भी सहर्ष स्वीकारा हैं। नोटबंदी के बाद से देश की अर्थव्यवस्था में भी सुधार हो रहा हैं। महामंत्री अरविंद श्रीवास्तव ने बताया कि 16 चौराहों अहमदपुर, माधवगंज, बंटीनगर, पीतलमील, बजरिया, बस स्टेण्ड, तिलक चौक आदि चौराहों पर भाजपा नेताओं ने नुक्कड़ सभा कर लोगों को नोटबंदी के तत्कालीन और दूरगामी परिणामों को बताया।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार