जीडीए ने ठगे पत्रकार

On Date : 19 May, 2017, 2:54 PM
0 Comments
Share |

धोखाधड़ी: पत्रकार कॉलोनी को निगलने की साजिश
प्रदेश टुडे संवाददाता, ग्वालियर।

पत्रकारिता के आदर्श मामा माणिकचन्द वाजपेयी के नाम पर न्यू सिटी सेन्टर में विकसित की गई पत्रकार कॉलोनी पर भी ग्वालियर विकास प्राधिकरण की बदनीयती का साया पड़ने लगा है। इस संबंध में जीडीए के कुछ शातिर अफसरों और मैदानी अमले ने भू माफिया के साथ मिलकर बड़ी सफाई से साजिश का जाल फैला दिया है। धोखाधड़ी के इस खेल का खुलासा होने पर अब यह पूरा मामला नए सिरे से गरमाता दिख रहा है।

 11 साल से पैसा फंसाकर बनाए जा रहे दवाब के हालात
दरअसल जीडीए ने करीब 11 साल पहले वर्ष 2006 में न्यू सिटी सेन्टर में मामा माणिचन्द वाजपेयी के नाम पर पत्रकार नगर बसाने की योजना पर काम शुरु किया था। इस संबंध में करीब डेढ़ सैकड़ा पत्रकार एवं मीडिया पर्सन्स ने भूखंडों की बुकिं ग कराई। इन्हें लॉटरी के जरिए प्लॉट आवंटित कर जीडीए ने पूरा पैसा जमा करा लिया। इसी क्रम में वर्ष 2011 में अधिकांश प्लॉट्स की रजिस्ट्रियां करते हुए मौके पर सीमांकन क राने की प्रक्रिया भी पूरी कर दी गई। वहीं दूसरी ओर जीडीए के ही कई कारिंदों की टीम भू माफिया के साथ मिलकर पत्रकार कॉलोनी की जमीन को विवादित बनाने के खेल में जुटी रही।

भू माफिया से सांठगांठ पत्रकारों से धोखा
इस पूरे प्रकरण में गंभीर बात ये है कि एक तरफ तो जीडीए भूखंडों के पंजीयन कराने और किश्तें जमा कराने के लिए विज्ञापन जारी करने से लेकर एलॉटमेंट व पजेशन तक समूची प्रक्रिया कराता रहा, वहीं दूसरी ओर भू माफिया से गठजोड़ के चलते अपनी तमाम योजनाओं की तरह इस कॉलोनी को खुर्द-बुर्द करने की साजिश पर भी समानान्तर काम चलता रहा।
पैसा दबाया जीडीए ने, घर का सपना अधर में
एक कॉलोनाइजर के इशारे पर फुलप्रूफ साजिश के तहत बुने गए ताने-बाने में पत्रकार कॉलोनी की जमीन को जानबूझकर विवादित बनाने के लिए जीडीए के गलियारों से ही साजिशें चलती रहीं। इन्हीं हालातों ने पत्रकारों से प्लॉट्स की पूरी कीमत वसूलने के बाद भी उनके घर के सपने को सालों से अधर में अटकाकर रख दिया है।

चिंताजनक हालात, घूम रहा ब्याज का मीटर
जीडीए की बदनीयती के चलते बनाए जा रहे विवादास्पद हालातों से करीब एक सैकड़ा पत्रकार बुरी तरह चिंतित हैं। इनमें से बड़ी तादात में ऐसे भी हैं जिन्होंने प्लॉट खरीदने के लिए बैंक से लोन ले रखा है। ऐसे में एक तरफ तो इनके ऊपर रात दिन बैंक के ब्याज का मीटर घूम रहा है वहीं दूसरी ओर अपने घर के सपने पर धुंध छाती जा रही है।

अध्यक्ष और सीईओ के खिलाफ पुलिस में जाने की तैयारी
जीडीए ने भूखंड देने के नाम पर पत्रकारों से साथ सरेआम धोखाधड़ी की है। पत्रकारों से पूरी राशि जमा कराने के बाद भी प्लॉट्स पर कब्जा नहीं दिया जा रहा। 11 सालों से जारी इस साजिश और धोखाधड़ी को लेकर पत्रकारों में जबदस्त आक्रोश है। इस मामले में हम जीडीए अध्यक्ष अभय चौधरी और सीईओ सुरेश कुमार के खिलाफ पुलिस में शिकायत कराएंगे। इसके साथ ही आर-पार की लड़ाई के लिए शीघ्र चरणबद्ध आंदोलन छेड़ा जाएगा।
        राजेश शर्मा, महासचिव म.प्र. पत्रकार संघ

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

मसाला ख़बरें

रूही सिंह ने सोशल मीडीया पर बिखेर अपने हुस्न के जलवे

मुंबई: फिल्म 'कैलेंडर गर्ल्स' से अपने करियर की शुरुआत करने वाली रूही सिंह इन दिनों अपनी हॉट इंस्टाग्राम...

जैकी श्रॉफ की बेटी ने फिर दिखाई बोल्ड अदाएं

मुंबई: बॉलीवुड अभिनेता जैकी श्रॉफ की बेटी कृष्णा श्रॉफ अपनी तस्वीरों की वजह से सोशल मीडिया चर्चा में...

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार