पति ने अपनी गलती स्वीकारी तो पत्नी ने किया माफ

On Date : 12 September, 2017, 6:08 PM
0 Comments
Share |

परिवार परामर्श शिविर में पांच परिवार बिखरने से बचे
प्रदेश टुडे संवाददाता, शिवपुरी

पुलिस कंट्रोल रूम में आयोजित परिवार परामर्श के शिविर में काउंसलरों की समझाइश से पांच परिवार बिखरने से बच गए। वहीं एक केस में दो परिवारों का संपत्ति विवाद को भी सुलझाकर उनके बीच राजीनामा कराने में महती सफलता प्राप्त की।
शिविर में इस बार कुल 15 प्रकरण रखे गए, जिनमें कुल 6 राजीनामे कराए गए। इनमें सबसे कठिन प्रकरण पिछोर क्षेत्र का था। जहां पति-पत्नी के बीच में अविश्वास के चलते अलगाव की स्थिति निर्मित हो गर्ई थी और मामले में पति की गलती ज्यादा थी। जब पति अपनी गलत स्वीकारने को तैयार नहीं हुआ तो उसकी काउंसलिंग की गई जिस पर पति ने अपनी गलती स्वीकारते हुए पत्नी से माफी मांग ली। पत्नी ने भी उसे माफ कर दिया और इस तरह परिवार टूटने से बच गया। इसी तरह एक अन्य प्रकरण में अंतर्जातीय प्रेम विवाह करने वाला युवा जोड़ा जो कि एक साल की बच्ची के माता-पिता भी थे। पति को मोबाइल के कारण अपनी पत्नी पर शक था तो पत्नी अपने पति तथा परिजनों के व्यवहार से नाखुश थी। इन दोनों की शादी को महज ढाई साल हुए थे और तलाक की नौबत आ चुकी थी। काउंसलरों ने इन दोनों के बीच विवाद को सुलझाने में सफलता प्राप्त की और पति अपनी पत्नी को वहीं से सीधे घर ले गया। इस अवसर पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमल मौर्र्य, डीएसपी महिला सेल आनंद राय, केंद्र के जिला संयोजक आलोक एम इंदौरिया, सुरेशचन्द्र जैन, भरत अग्रवाल डॉ. इकबाल खान,मृदुला राठी सहित महिला सेल के पुलिसकर्र्मी उपस्थित थे।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार