IIFA का शानदार आगाज: बॉलीवुड की धुन पर थिरका ...

On Date : 15 July, 2017, 12:15 PM
0 Comments
Share |

नई दिल्ली: सैकड़ों विदेशी नागरिक और भारतीय शुक्रवार को न्यूयॉर्क के टाइम्स स्क्वायर पर बॉलीवुड सितारों के साथ थिरकते नजर आए. इस बार मशहूर अंतरराष्ट्रीय भारतीय फिल्म अकादमी (आईफा) पुरस्कार समारोह न्यूयॉर्क में आयोजित किया गया है. बालीवुड स्टार्स के जमावड़े ने शाम को हसीन बना दिया. सबसे पहले रैंप फैशन शो आ आयोजन किया गया. कई मशहूर माडलों ने कैट वाक करके तालियां बटोरीं.

अदाकारा शिल्पा शेट्टी, हुमा कुरैशी, दिशा पटानी यहां रैंप पर चलीं और अभिनेता वरुण धवन अपने कुछ मशहूर गीतों पर थिरकते नजर आए. वरुण ने यहां ‘तम्मा तम्मा’ के रीमिक्स पर प्रस्तुति दी और लोग खुद को उनके साथ थिरकने से रोक नहीं पाए. ‘न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज’ पर सोनाक्षी सिन्हा ने घंटा बजाकर आईफा के 18वें संस्करण का आगाज किया. पुरस्कार के आगाज के साथ ही शहर का केंद्र संगीत, नृत्य और फैशन के रंग में रंग गया.

इन दौरान शाहिद कपूर ने कहा, ‘किसी नवोदित अभिनेता के साथ सबसे बुरी चीज, उसकी किसी बड़े स्टार या स्थापित अभिनेता से तुलना करना होता है क्योंकि इससे वह भ्रमित हो जाता है. इस चीज (शाहरुख के साथ तुलना) ने शुरुआत में मुझे परेशान किया क्योंकि मुझे पता नहीं था कि मैं क्या करूं.’ ‘जब वी मेट’, ‘कमीने’ और ‘हैदर’ ने शाहिद को हिंदी फिल्म उद्योग के स्थापित कलाकारों में से एक बना दिया है और अभिनेता का कहना है कि वह दूसरों की उम्मीदों पर खरा उतरने की कोशिश करने के बजाए अपनी पसंद को लेकर जोखिम लेते हैं.

शाहिद कपूर ने कहा, ‘हर अभिनेता को खुद को तलाशने की जरूरत होती है. किसी नवोदित अभिनेता की शाहरुख खान के साथ तुलना करना सही नहीं है. ऐसा कहते हुए मुझे लगता है कि मैं आज जो कुछ भी हूं, उसे लेकर सहज हूं. मैं एक अभिनेता के रूप में खुद को तलाश रहा हूं.’

वहीं, आलिया भट्ट ने बताया, ‘मैं अभी भी वही इंसान हूं- मेरा जन्म हुआ तब से और अब जब मैं काम कर रही हूं, मैं अभी भी वही हूं. मुझे नहीं लगता कि मैंने कुछ किया है. मैं मानती हूं कि मैं काम कर रही हूं और उपलब्धियां इसके प्रतिफल हैं.’ 24 वर्षीय इस अभिनेत्री का कहना है कि किसी तीसरे व्यक्ति के दृष्टिकोण से उन्होंने अपने और अपने करियर पर कभी कोई दबाव नहीं डाला.

आलिया ने कहा, ‘मैं अपने दृष्टिकोण से अपने ऊपर दबाव डालती हूं. मैं खुद को चुनौती देना चाहती हूं. मैं गंभीर भूमिकाएं करना चाहती हूं और साथ ही मैं कॉमेडी भी करना चाहती हूं.’

इस दौरान सलमान खान ने कहा, ‘मैंने कभी कोई पुरस्कार नहीं जीता है. मुझे सहायक अभिनेता के कुछ पुरस्कार मिल चुके हैं.’ अभिनेता ने उन पलों को याद किया जब एक पत्रिका के संपादक ने उन्हें एक पुरस्कार समारोह में आमंत्रित किया जिसमें उन्हें फिल्म ‘मैंने प्यार किया’ को लेकर नामांकित किया गया था.

‘मुझे जैकी श्रॉफ और अन्य कलाकारों के साथ नामांकित किया गया. उस अवसर पर जब मेरा नाम पुकारा गया तो मैं पुरस्कार लेने के लिए खड़ा हुआ, लेकिन पुरस्कार जैकी को मिला. मैं ईनाम लेने के लिए नहीं जाता हूं. मैं बस परफॉर्म करने के लिए जाता हूं.’ अभिनेता ने मजाक किया कि वह सर्वश्रेष्ठ अभिनेता नहीं थे, लेकिन आयोजक हमेशा उन्हें मोटा भुगतान करने को तैयार रहते हैं.

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

मसाला ख़बरें

रूही सिंह ने सोशल मीडीया पर बिखेर अपने हुस्न के जलवे

मुंबई: फिल्म 'कैलेंडर गर्ल्स' से अपने करियर की शुरुआत करने वाली रूही सिंह इन दिनों अपनी हॉट इंस्टाग्राम...

जैकी श्रॉफ की बेटी ने फिर दिखाई बोल्ड अदाएं

मुंबई: बॉलीवुड अभिनेता जैकी श्रॉफ की बेटी कृष्णा श्रॉफ अपनी तस्वीरों की वजह से सोशल मीडिया चर्चा में...

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार