चंदे को लेकर ओएफके लेबर यूनियन के धड़ों में किचकिच

On Date : 12 January, 2018, 3:41 PM
0 Comments
Share |

वर्क्स कमेटी चुनाव से चला आ रहा है विवाद, पिछली बार थाने तक पहुंच गया था मामला

प्रदेश टुडे संवाददाता,जबलपुर
आॅर्डिंनेस फैक्टरी खमरिया (ओएफके) में चंदा वसूली को लेकर एक ही कर्मचारी संगठन के दो धड़ों के बीच विवाद खड़ा हो गया है। हालात यह कि सोशल मीडिया के माध्यम से कर्मचारियों के बीच यह संदेश भेजकर सतर्क किया जा रहा है। सोशल मीडिया में प्रसारित उक्त मैसेज ओएफके कर्मचारियों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है।
दरअसल ओएफके में काफी लंबे समय से लेबर यूनियन दो धड़ों में बटी हुई है। वर्क्स कमेटी चुनाव के दौरान तो दो गुट खुलकर एक-दूसरे के खिलाफ समाने आ गए थे। जिसके चलते वर्क्स कमेटी चुनाव में दोनों ही गुट अपने पारंपरिक सिम्बल का उपयोग नहीं कर पाए थे। अब विवाद आगे बढ़ गया है। बताया जाता है कि वर्क्स कमेटी चुनाव में हार का मुंह देखने वाले गुट ने अब कर्मचारियों को अपने पक्ष में जोड़ने सदस्यता अभियान चलाने की तैयारी कर ली है। बकायदा सदस्यता अभियान चलाने रशीद बुक भी छपवा ली गई है। इस बात की भनक दूसरे गुट को लगते ही वह सोशल मीडिया में सक्रिय हो गया। संगठन के महामंत्री ने दावा किया है कि यूनियन की सदस्यता अभियान अप्रेल माह में चलाया जाता है वर्तमान में जो लोग सदस्यता के नाम पर पैसे वसूल रहे हैं वे तो संगठन के सदस्य ही नहीं हैं। उन्होंन पत्र के माध्यम से कर्मचारियों को बताया कि पैसे वसूलने वालों के विरुद्ध खमरिया पुलिस को सूचना दी गई है।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार