रोहित के शतक से भारत ने SA को दिया 275 रनों का टारगेट

On Date : 13 February, 2018, 9:49 PM
0 Comments
Share |

पोर्ट ऐलिजाबेथ : पांचवें वनडे में टॉस हारने के बाद बैटिंग के लिए आमंत्रित भारतीय क्रिकेट टीम ने पोर्ट ऐलिजाबेथ के मैदान में साऊथ अफ्रीका के खिलाफ जोरदार शुुरुआत तो की लेकिन मध्यक्रम के दोबारा फेल होने का कारण टीम इंडिया बड़ा स्कोर नहीं बना पाई। एक समय जब रोहित शर्मा और धवन अपनी पूरी लय में खेल रहे थे तो ऐसा लग रहा था कि भारत 350 से ज्यादा रन बनाएगा। लेकिन धवन और कोहली के आऊट होते ही भारतीय मध्यक्रम ताश के पत्तों की तरह बिखर गया। इस तरह भारत 50 ओवर में महज 274 रन ही बना पाया। दक्षिण अफ्रीका बल्लेबाजी के लिए मैदान पर उतर चुकी है। पहले बल्लेबाजी के लिए मार्करम और अमला मैदान पर आए थे। मार्करम बुमराह की गेंद पर 32रन बनाकर कैच आउट हो गए। दूसरा विकेट जेपी ड्यूमिनी का गिरा, वे सस्ते में 1 रन की बदौलत पांडया की गेंद पर आउट हो गए। अब डिवीलियर्स और अमला बल्लबाजी कर रहे हैं।

रोहित ने लगाया 17वां शतक, धवन ने खेली तूफानी पारी
इसी बीच टेस्ट के बाद वनडे सीरीज में फ्लॉप चल रहे रोहित शर्मा ने फॉर्म में वापसी करते हुए अपना 17वां शतक बनाया। रोहित ने 126 गेंदों में खेली 115 रन की पारी के दौरान 11 चौके और 4 छक्के भी लगाए। उधर धवन ने अपनी शानदार फॉर्म जारी रखते हुए आठ चौकों की मदद से महज 23 गेंद में 34 रन बना दिए। धवन के आऊट होने के बाद कोहली ने कुछ अच्छे शॉट खेले लेकिन वह भी 26वें ओवर में एक रन चुराने के चक्कर में आऊट हो गए।

रहाणे और पांड्या फिर हुए फ्लॉप
अजिंक्य रहाणे इस मैच में भी कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाए और महज 8 रन पर वह रन आऊट हो गए। नए खिलाड़ी श्रेयस ईय्यर ने हालांकि कुछ अच्छे शॉट लगाए लेकिन वह अपनी पारी को बढ़ा करने में नाकामयाब रहे। ईय्यर ने 37 गेंद में 30 रन बनाएं। वहीं, हार्दिक पांड्या की फॉर्म अभी भी भारत के लिए चिंता का विषय बनी हुई है। पांड्या पहली गेंद पर ही नगिडी के हाथों आऊट हो गए।

धोनी और भुवनेश्वर भी हो गए फेल
चौथे वनडे में धीमी बैटिंग के लिए आलोचना झेल रहे एमएस धोनी इस मैच में भी कुछ खास नहीं कर पाए। आखिरी ओवरों में बल्लेबाजी करते हुए धोनी 17 गेंद में एक चौके की मदद से केवल 13 रन ही बना पाएं। वहीं भुवनेश्वर कुमार ने एक छोर संभाले रखा। वह 20 गेंद में 19 रन बनाकर टीम इंडिया को 274 रनों तक ले गए। कुलदीप यादव ने भी 2 रन बनाए।

नगिडी ने झटके चार विकेट
दक्षिण अफ्रीका की ओर से तेज गेंदबाज नगिडी सबसे सफल रहे। उन्होंने नौ ओवर में 51 रन देकर 4 विकेट झटके। जबकि मोर्ने मार्केल ने किफायती गेंदबाजी करते हुए 10 ओवर में दो मेडन फेंककर 44 रन दिए। लेकिन वह विकेट नहीं हासिल कर पाए। जेपी डुमिनी चार ओवर में 29 तो शम्सी दस ओवर में 48 रन देकर कोई विकेट हासिल नहीं कर पाए। रबादा को नौ ओवर में 59 रन देकर एक विकेट मिला।

सेंट जॉर्ज पार्क में भारत का प्रदर्शन
भारतीय टीम का इस ग्राउंड पर रिकॉर्ड अच्छा नहीं रहा है। टीम इंडिया यहां 1992 से अब तक 26 साल में पांच वनडे मैच खेल चुकी है और पांचों में उसे हार का सामना करना पड़ा है। दक्षिण अफ्रीका ने उसे सभी चार भिड़ंत में हराया ही है, एक मैच में केन्या ने भी हराया है। दूसरी तरफ मेजबान टीम की चाहत भारत के खिलाफ इस मैदान पर अपने जीत के रिकॉर्ड को आगे बढ़ाने की होगी। पिंक जर्सी में मिली जीत ने टीम के हौसले बुलंद कर दिए हैं और एबी डीविलियर्स की वापसी से टीम का मनोबल बढ़ा है।

पिछले मुकाबले में मिली हार और मौसम को देखते हुए भारतीय टीम में बदलाव की संभावना बढ़ गई है। केदार जाधव को केपटाउन में हैमस्ट्रिंग चोट लगी थी और वह पिछला मैच नहीं खेल सके थे। उनकी फिटनेस पर अब भी सवालिया निशान बना हुआ है। अगर वह फिट रहते हैं तो श्रेयस अय्यर की जगह उनकी वापसी तय है। तेज हवाएं तेज गेंदबाजों को मदद देती है ऐसे में कप्तान कोहली प्लेइंग इलेवन में एक ही नियमित स्पिनर को लेकर भी उतरें और मोहम्मद शमी को वापसी का मौका मिले।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार