मंत्री पवैया के बंगले का घेराव, कांग्रेसी गिरफ्तार

On Date : 12 October, 2017, 2:37 PM
0 Comments
Share |

मुंगावली कॉलेज के प्राचार्य के निलंबन का विरोध करने पहुंचे कांगे्रसी
प्रदेश टुडे संवाददाता, ग्वालियर

मुंगावली कॉलेज के प्राचार्य के निलंबन के मुद्दे ने शहर की सियासत को गरमा दिया है। इसके लिए प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री जयभान सिंह पवैया को जिम्मेदार मानते हुए कांग्रेस के दलित नेता झांसी रोड स्थित उनके बंगले ‘सेवाधाम’ का घेराव करने पहुंच गए, जहां पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। इसके नाराज पार्टी के दीगर नेता मौके पर पहुंचकर धरने पर बैठ गए। गौरतलब है कि श्री पवैया आज शाम को ग्वालियर पहुंच रहे हैं ऐसे में यह मामला और तूल पकड़ सकता है।
   मंत्री श्री पवैया के बंगले पर धरना देने अपने समर्थकों के साथ पहुंचे अनुसूचित जाति कांग्रेस के प्रदेश संयोजक पुरुषोत्तम बनौरिया सहित कई नेताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद कांग्रेस नेता मुन्नालाल गोयल, सुनील शर्मा और मितेन्द्र दर्शन सिंह मौके पर पहुंचकर धरने पर बैठ गए। गौरतलब है कि गुना-शिवपुरी से सांसद एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को महाविद्यालय में आमंत्रित करने पर दलित प्राचार्य को किया निलंबित किया गया है।
कांग्रेस का कहना है कि इस घटना से भाजपा का दोमुंहा चेहरा बेनकाब हो गया है। सत्ता के मद में चूर प्रदेश सरकार ने तमाम नियम-कायदों को धता बताते हुए दलित प्राचार्य डॉ. बी एल अहिरवार को सिर्फ इसलिए निलंबित कर दिया कि उन्होंने अपने महाविद्यालय में स्थानीय सांसद को आमंत्रित कर लिया। पार्टी इस तरह की घटनाओं को कतई बर्दाश्त नहीं करेगी।
दलित विरोधी है पवैया: इस मामले को लेकर पूर्व विधायक प्रद्युम्न सिंह तोमर ने पवैया पर दलित विरोधी होने का आरोप लगाया है। तोमर ने कहा है कि सत्ता के घमंड में वे समाज में तानाशाही का माहौल बना रहे हैं। यदि एक दलित प्राचार्य किसी राजनेता को बुला रहा है तो उसे हटा देना कहां का न्याय है? कांग्रेस इस मामले में पूरे संभाग में विरोध करेगी।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार