अब सूर्य के राज खोलेगी नासा

On Date : 11 June, 2013, 1:54 PM
0 Comments
Share |

वाशिंगटन, एजेंसी
सूर्य के वायुमंडल की निचली सतह या आतंरिक परत के बारे में जानकारी जुटाने के लिए नासा द्वारा 26 जून को लांच होने वाले इंटरफेस रीजन इमेजिंग स्पेक्टोग्राफ (आईआरआईएस) उपग्रह के प्रक्षेपण की तैयारियां चल रही हैं। यह जानकारी नासा ने दी। नासा ने कहा कि सूर्य की दिखाई पड़ने वाली सतह और ऊपरी वायुमंडल के बीच की आंतरिक सतह वह जगह है जहां सूर्य पर होने वाला अधिकांश पराबैंगनी उत्सर्जन होता है। आईआरआईएस अभियान के अंतर्गत एक पराबैंगनी दूरदर्शी को भी संलग्न किया गया है, जो बहुत कम समय के अंतर पर चित्र लेने के लिए विशेष तौर पर निर्मित किया गया है।

कैलिफोर्निया में बना यान का डिजाइन
लॉकहीड मार्टिन आईआरआईएस के मुख्य जांचकर्ता एलन टाइटल ने कहा कि इससे पहले हुए अध्ययनों के अनुसार सूर्य के वायुमंडल की इस सतह में 100 से 150 मील चौड़ी संरचनाएं हैं, लेकिन यह एक लाख किलोमीटर लंबी है। आईआरआईएस अंतरिक्षयान को लॉकहीड मार्टिन के कैलिफोर्निया स्थित पालो आल्टो अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी केंद्र में डिजाइन और निर्मित किया गया है।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार