चीन मुद्दे पर एकजुट हुआ विपक्ष, संसद में चर्चा कराने की रखी मांग

On Date : 16 July, 2017, 6:31 PM
0 Comments
Share |

नई दिल्ली: संसद के कल से शुरू हो रहे मानसून सत्र से पहले चीन के साथ सिक्किम सेक्टर में तनातनी और कश्मीर मुद्दे का जिक्र करते हुए कांग्रेस ने आज कहा कि संसद में इन विषयों पर चर्चा होनी चाहिए। कांग्रेस ने इस बात पर जोर दिया कि क्षेत्रीय अखंडता और राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दों पर पार्टी सरकार के साथ खड़ी है। सरकार ने सत्र से पहले आज सर्वदलीय बैठक बुलाई और सदन की कार्यवाही सुचारू रूप से चलाने के बारे में सहयोग मांगा। बैठक के बाद कांग्रेस ने कहा कि बंदूक कश्मीर में तनाव समाप्त करने का रास्ता नहीं हो सकता है और वह अन्य विपक्षी दलों के साथ कल से शुरू हो रहे संसद सत्र के दौरान इस विषय को उठाएगी।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने सरकार को बताया है कि आतंरिक और बाह्य सुरक्षा से जुड़े कुछ संवेदनशील मुद्दे है और संसद सत्र के दौरान इन पर चर्चा किए जाने की जरूरत है। कांग्रेस नेता ने कहा कि सरकार ने कश्मीर में बातचीत के सभी दरवाजे बंद कर दिए हैं जिससे राजनीतिक घुटन की स्थिति बनी है। बंदूक से कश्मीर में तनाव का समाधान नहीं निकाला जा सकता है। अगर सरकार सोचती है कि कश्मीर में तनाव समाप्त करने का एकमात्र रास्ता बंदूक है तब हम उनके साथ नहीं हैं। राज्यसभा में विपक्ष के नेता ने कहा कि पहले जब भी कश्मीर का मुद्दा उठा, उसमें पाकिस्तान के बारे में चर्चा हुई। लेकिन अब हम चीन के बारे में पढ़ और सुन रहे हैं। 

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार