आदेश की SDM ने की अवहेलना अवैध कॉलोनी पर नहीं हुई कार्रवाई

On Date : 29 December, 2017, 10:26 PM
0 Comments
Share |

एसडीएम ने कहा ‘प्लॉट नीलाम करने से क्या फायदा, हमें तो विकास चाहिए’
प्रदेश टुडे संवाददाता, टिमरनी
नगर की कुशवाहा कॉलोनी वार्ड क्रमांक 3 में कालोनी नाईजर नरेंद्र जोशी पर अवैध कालोनी काटने और रहवासियों को मूलभूत सुविधा नहीं देने पर कलेक्टर अनय द्विवेदी ने 31 जुलाई 17 को एक आदेश पारित करते हुए कालोनीनाइजर नरेंद्र जोशी की कालोनी के प्लॉटो की निलामी करने ओर कॉलोनीनाईजर पर एफआईआर दर्ज करने के आदेश जारी किए गए थे। लेकिन, 5 माह बीत जाने के बावजूद भी एसडीएम पीके पांडे ने कलेक्टर के आदेश की अवहेलना करते हुए। अभी तक प्लॉट निलामी के संबंध में ना तो कोई कार्यवाहीं की और न ही नरेंद्र जोशी पर एफआईआर दर्ज कराई गई। उपर से एसडीएम कालोनीनाइजर का ही पक्ष करते नजर आ रहे है, लेकिन वरिष्ट अधिकारी के आदेश का पालन नहीं करना तोहीन हैं।

एसडीएम को भेजा नोटिस
कलेक्टर अनय द्विवेदी ने एसडीएम पीके पांडे द्वारा दिए गए आदेश की आवहेलना करने पर 2 नवंबर को एक नोटिस जारी किया गया। जिसमें कलेक्टर ने कहा कि 31 जुलाई के आदेश की आवहेलना की गई है और अभी तक कॉलोनीनाईजर के संबंध में कोई रिपोर्ट प्रस्तुत नहीं की गई। जिसे 15 दिवस के अंदर प्रस्तुत की जाने के निर्देश दिए गए। लेकिन, 50 दिवस बितने पर भी कालोनी नाईजर पर अब तक कोई कार्यवाहीं नहीं की जाना एक सांठगांठ होना प्रतित हो रहा है।

क्या है मामला
खाली खेत की भूमि पर डायवर्शन कराए बिना ही धड़ल्ले से कॉलोनीनाईजर जोशी ने प्लॉट काट दिए गए और विकास कार्य कराने के नाम पर रहवासियों के साथ धोखाधड़ी की गई। जबकि टीएनपीसी के नियमानुसार प्रत्येक कॉलोनीनाईजर को कॉलोनी काटने की अनुमति मिलने के बाद 3 वर्ष के अंदर कालोनी में मूलभूत सुविधा देना ही होगा। लेकिन कॉलोनीनाइजर द्वारा सारे नियमों को ताक पर रखकर टीएनपीसी से भी कोई अनुमति नहीं ली गई।

लकड़ियों पर डाली विद्युत लाईन
जोशी कॉलोनी में कॉलोनी नाईजर ने मूलभूत सुविधा में सड़क बिजली, पानी की टंकी, गार्डन, बाउंड्रीवाल, मंदिर जैसी एक भी सविधा कॉलोनी में रहवासियों के लिए नहीं की गई जिससे रहवासियों को आए दिन परेशानियों का सामना भी करना पड़ता है। वहीं विद्युत पोल नहीं होने के कारण रहवासियों को मजबूरी में लकड़ी के बांस पर विद्युत केबल लाइन लेकर अपने घरों तक पहुंचाना पड़ रहा है।

इनका कहना है: कालोनी नाईजर द्वारा विकास कार्य प्रारंभ कर दिया है कलेक्टर ने आदेश किए थे, लेकिन उस पर एफआईआर दर्ज कराने या प्लॉट निलाम करने से क्या फायदा। हमें तो विकास कार्य होना चाहिए जो वह कर रहा है।
पीके पांडे, एसडीएम
टिमरनी

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार