पत्रिका 13 अक्टूबर 2017

On Date : 13 October, 2017, 12:08 PM
0 Comments
Share |

कत्ल हो तो मेरा सा, मौत हो तो मेरी सी, मेरे सोगवारों में आज मेरा कातिल है। आरुषि मामले में तलवार दंपति बरी हो गए। तमाम सबूत वगैरह को इत्ता कमजोर कर दिया गया के उने संदेह का फायदा मिला। खबर को तमाम सवालों के साथ लीडरी सौंपी गई। जय शाह की संपत्ति मामले में संघ ने पल्ला झाड़ लिया है। किस की हिम्मत है साब जो बोले। साइबर ठग खुद बता रहे हैं कि जब तक वो खाताधारक के जब तक बैंक एक्शन लेते हैं तब तो वो खाता धारक के खाते से रकम निकाल लेते हैं। आकाश में बादलों से शाल भंजिका की आकृति उभरने वाली फोटू सुभाष ठाकुर ने जानदार निकाली। खंडेलवाल परिवार दिवाली पे सौ परिवारों को एक माह का राशन बांटता है। चन्द्रप्रकाश भातरी की खबर नायाब आई। दिवाली के अदभुत शुभ संयोग वाली खबर और साथ में जगमग न्यू मार्केट की फोटू शानदार आए।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार