प्रसूता श्रमिक को दो माह की मजदूरी का भुगतान हो

On Date : 12 August, 2017, 3:16 PM
0 Comments
Share |

संभाग के कमिश्नर एसएन रूपला ने दिए निर्देश
प्रदेश टुडे संवाददाता, ग्वालियर
श्रम विभाग की मध्यप्रदेश भवन एवं अन्य संनिमार्ण एवं मुख्य मंत्री मजदूर सुरक्षा योजना में पंजीबद्ध महिला श्रमिकों को प्रसूति के समय 45 दिन की मजदूरी और उसके पति को 15 दिवस की मजदूरी इस तरह दो माह की मजदूरी का भुगतान किया जाये। इस योजना का लाभ घरेलू कामकाजी महिलाओं, ठेला, रिक्शा चालकों, केशशिल्पी, तुलावटी, ड्राइवर, कन्डेक्टर, हम्मालों की गर्भवती पत्नियों को प्रसूति के समय भी दिया जाना है।
 
यह निर्देश ग्वालियर संभाग के कमिश्नर एसएन रूपला ने स्त्री रोग एवं प्रसूति विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ. श्रीमति ज्योति बिन्दल को दिये है। उन्होंने कहा कि कमलाराजा हॉस्पीटल के प्रसूति वार्ड से इन योजनाओं में पंजीबद्ध प्रसूति महिला को उसकी निर्धारित समय की मजदूरी का भुगतान भी किया जाए। उन्होंने कहा कि कमलाराजा हॉस्पीटल के प्रसूति वार्ड से प्रसूति महिला श्रमिकों को मजदूरी का भुगतान नहीं किया जा रहा है। उन्होंने डॉ. ज्योति बिन्दल से कहा कि वे प्रतिमाह कितनी प्रसूति श्रमिक महिला को उनके पति को मजदूरी का भुगतान किया गया का प्रतिवेदन प्रस्तुत करेंगी। उन्होंने कहा कि इन योजनाओं में पैसे की कमी नहीं है। श्रमिकों के हितों के साथ खिलवाड़ नहीं किया जाये। कमिश्नर श्री रूपला ने कहा कि इस योजना में बीपीएल, एपीएल का कोई बन्धन नहीं है। केवल श्रमिक महिला पंजीकृत हो, उसको पास पंजीयन कार्ड हो उसी के आधार पर उसे प्रसूति सहायता के रूप में 45 दिन की मजदूरी और उसके पति को 15 दिन का न्यूनतम वेतन दिया जाए। यह सहायता 3 बच्चों पर सीमित है। इसके अलावा इसी योजना में ग्रामीण प्रसूता को 1400 रुपए का पोषण भत्ता शहरी श्रमिक प्रसूता को 1000 रुपए का पोषण भत्ता देने का भी प्रावधान है। यह राशि प्रसूता के अस्पताल में भर्ती होते समय ही बैंक की पासबुक की फोटोकॉपी लेकर उसके खाते में जमा कराई जाए। कमिश्नर ने मुख्य चिकित्सा एव स्वास्थ्य अधिकारी एवं सिविल सर्जन को भी निर्देश दिये हैं कि वे श्रमिकों की इन योजनाओं को देखे। सम्बन्धित स्वास्थ्य मैदानी अमला, आशा, ऊषा कार्यकर्ता को बुलाकर उनको ट्रेंड करें। 
 
उन्होंने कहा कि प्रथम चैकअप के समय ही श्रमिक महिला को मजदूरी भुगतान सम्बन्धी जानकारी से भी अवगत करायें ताकि प्रसूता श्रमिक महिला प्रसूति के समय ही मजदूरी का भुगतान प्राप्त कर सके। कमिश्नर ने इस योजना के प्रचार प्रसार हेतु प्रसूति वार्ड के बाहर होडिंग्स अथवा फ्लेक्स लगवाएं ताकि इस योजना से सभी को मालूम हो सके। योजना की प्रगति की रिपोर्ट हर माह संयुक्त संचालक स्वास्थ्य डॉ. दीक्षित देगें। 

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

मसाला ख़बरें

एक्ट्रैस ने फेमस मैगजीन के लिए कराया हॉट फोटोशूट

मुंबई: बॉलीवुड एक्ट्रैस एवलिन शर्मा ने हाल ही में एक मशहूर मैगजीन के लिए फोटोशूट करवाया है। एवलिन ने...

मंदिरा बेदी ने वीकएंड पर पोस्ट की हॉट तस्वीर, इंस्टा पर मची खलबली

मुंबई: बॉलीवुड एक्ट्रैस मंदिरा बेदी सिनेमा और स्पोर्ट्स तक अपनी पुख्ता पहचान रखती है। हाल ही में मंदिरा...

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार