पीपुल्स समाचार 12 जनवरी 2018

On Date : 12 January, 2018, 12:54 PM
0 Comments
Share |

सूबे के बीस हजार शिक्षक दूसरे विभागों में बाबूगिरी कर रहे हैं। गर इनका अटैचमेंट खतम हो जाए तो नई भर्ती की जरूरत ही नहीं है। रामचंद्र पाण्डेय की भोत जानदार खबर। सिक्के जहां ढलते हैं उने छापाखाने नहीं टकसाल कहा जाता है साब।  महिला आयोग में देवरानी, जेठानियों और दूर की ननद पर पतियों पे डोरे डालने की शिकायतें आ रही हैं। नरेंद्र शर्मा ने भोत रोचक खबर निकाली। लोहानी साब तो नहीं आ रहे बाकी स्टेशनों पे इंतजाम जरूर मुकम्मल हो गए। खबर पढ़ी जाएगी।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार