जनसमस्याओं को लेकर कोर्ट में लगाएंगे याचिका

On Date : 19 August, 2017, 3:55 PM
0 Comments
Share |

नहीं हो रहे समय पर शासकीय योजनाओं के काम
प्रदेश टुडे संवाददाता, मुरैना
अंबाह में शासकीय कार्यों के विभाग संचालित न होने से लोगों का समय व पैसा दोनों बर्बाद होते हैं। क्षेत्र के तमाम नागरिकों को अपनी समस्याओं, न्यायालयीन व राजस्व कार्यों को निपटाने के लिए 30 किलोमीटर का सफर तय कर पोरसा जाना पड़ता है। जिससे उन्हें काफी परेशानी होती है। 
 
अत: अंबाह में शासकीय कार्यालय स्थापित करने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन तथा न्यायालय की शरण ली जाएगी। उक्त बात कांग्रेस के जिला महामंत्री विजय कुमार छारी व जिला उपाध्यक्ष विजय सिंह शर्मा ने आयोजित पत्रकारवार्ता के दौरान कही। 
 
नेताद्वय ने बताया कि अंबाह विधानसभा के निकट 60 गांव हैं, जिनमें 18 ग्राम पंचायत रतन बसई, बरबाई, अम्लेहडा, अजेडा, अधन्नपुर, बीजलीपुरा, श्यामपुरकलां, नावली, हिंगावली, रूअर, कसमडा, रछेड, लुधावली, उसैद, विण्डवा, विजयगढ, पाली, महुआ, सैंथरा आदि के निवासियों को अपने जमीन जायदाद, खेती, किसानी संबंधी न्यायालयीन मामलों व विकास कार्यों हेतु आज भी तहसील पोरसा में ही जाना पड़ता है। 
 
इन गांव के किसानों के लिए अंबाह जनपद तहसील समीप है, इसके बावजूद उन्हें उक्त मामलों को निपटाने पोरसा जाकर समय व पैसा दोनों बर्बाद करने पड़ रहे हैं। यही स्थिति पोरसा के निकट के गांवों में भी पाई गई, यहां कुछ गांव ऐसे भी हैं जो पोरसा के समीप हैं, मगर उन्हें अंबाह में जोड़ रखा है, जबकि उनको पोरसा से जोड़ा जाना आवश्यक है। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि विगत 14 वर्षों से प्रदेश में भाजपा का नेतृत्व है, इसके बावजूद भी क्षेत्र में विकास की गति रूकी हुई है। किसान, व्यापारी, मजदूर सभी परेशान हैं। वर्तमान में सूखे के हालात बने हुए है। सरकार महंगाई का बोझ बढ़ाती जा रही है। खाद, बीज, कीटनाशक सभी के दाम बढ़े हैं, इसके साथ ही बिजली की दरें भी बढ़ी हैं।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार