खिलाड़ियों को अपना ध्यान नहीं भटकने देना चाहिए: माटोस

On Date : 05 October, 2017, 9:38 PM
0 Comments
Share |

नई दिल्ली: भारत की अंडर-17 टीम के कोच लुई नोर्टन डि माटोस ने कल अमेरिका के खिलाफ होने वाले फीफा विश्व कप के शुरूआती मुकाबले से पहले कहा कि खिलाडिय़ों को ध्यान नहीं भटकने देना चाहिए और शुरू से लेकर अंत तक अपनी रणनीति पर अडिग रहना होगा। उन्होंने कहा, ‘‘भारत के लिए यह बड़ा टूर्नामेंट है, खिलाडिय़ों से लेकर खेल प्रेमियों तक सभी इसके लिए रोमांचित हैं। हमने कड़ी मेहनत की है और खिलाडिय़ों के लिये भविष्य में अच्छा प्रदर्शन करने के लिये यह पहला कदम है।’’
 
कोच ने कहा कि अनुभव की कमी के बावजूद भारतीय खिलाडिय़ों को खुद पर भरोसा रखते हुए सफलता हासिल करने की ओर कदम बढ़ाना होगा। माटोस ने कहा, ‘‘अमेरिका, घाना और कोलंबिया बड़े स्तर की टीमें हैं। हमने काफी अच्छी तैयारी की है लेकिन फुटबाल ऐसा खेल है जिसमें आपको नहीं पता कि नतीजा क्या होगा। और कुछ भी हो सकता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘सभी युवा खिलाडिय़ों का ध्यान केंद्रित है और इनकी सबसे अच्छी बात है कि ये सभी सीखना चाहते हैं जो सबसे अहम चीज है। उन्हें दबाव नहीं लेकर एकजुट होकर खेलना होगा। उन्हें अपने प्रदर्शन से देश को गौरवान्वित करना होगा। बस अपना ध्यान मत भटकाओ।’’ अमेरिकी खिलाडिय़ों के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘मैं सभी खिलाडिय़ों को जानता हूं, किसी भी तरह की कमी भारी पड़ सकती है। उनकी टीम काफी मजबूत है लेकिन भारतीय खिलाड़ी भी इतिहास रचना चाहते हैं और वे इस पर काम कर रहे थे। कल देखते हैं। हम मैच में शुरू से अंत तक अपना सर्वश्रेष्ठ खेल दिखाना चाहते हैं।’’
 
विपक्षी टीम के बारे में जब पूछा गया कि उनके लिये कौन सा खिलाड़ी ज्यादा अहम होगा तो माटोस ने कहा, ‘‘उनके सभी खिलाड़ी काफी अहम हैं। वे शारीरिक रूप से काफी मजबूत हैं, हमें अपनी रणनीति पर अडिग रहना होगा।’’ भारतीय टीम के खिलाडिय़ों की मजबूती और रणनीति के बारे में कोई भी टीम नहीं जानती तो क्या टीम का छुपेरूस्तम होना मैच में सकारात्मक हो सकता है तो उन्होंने कहा, ‘‘हमारी टीम में उनकी तुलना में अनुभव की कमी है और टीम इतनी प्रतिस्पर्धी भी नहीं हैं। उनके खिलाडिय़ों को कम से कम 10 साल तक खेलने का अनुभव है, वे यहां आये हैं, लेकिन कम से कम 10 साल तक खेल चुके हैं। भारतीय खिलाडिय़ों के साथ ऐसा नहीं है।’’ 
 
भारतीय अंडर-17 विश्व कप टीम के कप्तान अमरजीत सिंह कियाम से जब पूछा गया कि नमित देशपांडे अमेरिका में खेलते थे तो क्या उनसे इस मैच के बारे में कोई मदद मिली तो उन्होंने कहा, ‘‘कोच जो बताते हैं, हमने उनकी सूचना और रणनीति के अनुसार ही तैयारी की।’’ जब उनसे पूछा गया कि जानी मानी हस्तियों सहित बड़े खिलाड़ी भी टीम को शुभकामनायें दे रहे हैं तो क्या प्रेरणा मिल रही है तो उन्होंने कहा, ‘‘बहुत अच्छा लग रहा है। वे भारतीय फुटबाल का समर्थन कर रहे हैं। हम भी मैदान पर अपना 110 प्रतिशत देंगे। तैयारियों तक का सफर अच्छा रहा है और अब बस प्रदर्शन करने का समय आ गया है। हमारा काम अपना सर्वश्रेष्ठ देना है। ’’ 

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार