RSS की BJP को नसीहत, डालें सुनने की आदत

On Date : 12 January, 2018, 12:58 PM
0 Comments
Share |

राजनीतिक संवाददाता, भोपाल
राष्टÑीय स्वयंसेवक संघ ने भाजपा को नसीहत देते हुए कहा है कि वे सरकार में हैं तो सुनने की आदत डालें, किसी काम में अगर कोई कठिनाई आ रही है तो उसे अनुषांगिक संगठनों के लोगों को बताए पर उपेक्षा या असहयोग का भाव ठीक नहीं है। विदिशा में चल रही संघ की तीन दिवसीय समन्वय बैठक के पहले सत्र में अनुषांगिक संगठनों ने भाजपा सरकार से सहयोग न मिलने का मुद्दा उठाया। इन संगठनों का कहना था कि जो बाते समन्वय बैठक में तय होती हैं उन पर बाद में सरकार और संगठन का पर्याप्त सहयोग नहीं मिल पाता। अनुषांगिक संगठनों ने मंत्रियों की कार्यशैली और अफसरशाही के रवैये पर भी तीखे प्रहार किए।
तीन दिवसीय बैठक के दूसरे दिन आज विद्या भारती ने शिक्षा से संस्करों को जोड़ने के अपने अभियान को लेकर कहा कि अंग्रेजी का प्रभाव लगातार बढ़ रहा है। निजी स्कूल भारतीय भाषाओं की उपेक्षा कर रहे हैं पर सरकार इसके लिए कोई ठोस दिशा-निर्देश नहीं जारी कर रही है। विद्या भारती का कहना था कि अंग्रेजी को स्कूल बच्चों पर थोप रहे हैं इसे ऐच्छिक होना चाहिए। उसका कहना था कि स्कूलों में सहायक वाचन की किताब शुरू होना थी पर उसे लेकर भी कोई काम नहीं नहीं हुआ है। वनवासी कल्याण परिषद ने आदिवासियों को लेकर चलाए जा रहे अभियान में सरकार और संगठन के नेताओं का पूरे मन से सहयोग न करने की बात कही।
विजयवर्गीय पहुंचे बैठक में
आज दूसरे दिन की बैठक में भाजपा के राष्टÑीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय भी पहुंचे। यहां पहुंचने पर उन्होंने उन्होंने कुछ देर संघ नेताओं से बातचीत की। इसके अलावा आज दूसरे दिन भी प्रभात झा, नंदकुमार सिंह चौहान, सुहास भगत, वीडी शर्मा, अतुल राय, ज्योति धुर्वे, रामेश्वर शर्मा आदि नेता मौजूद थे।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार