फर्जी दस्तावेज से किसान के नाम पर निकाले 7. 50 लाख

On Date : 11 August, 2017, 10:22 PM
0 Comments
Share |

बैंक आॅफ इंडिया में मिलीभगत से एक और KCC घोटाला
प्रदेश टुडे संवाददाता, छतरपुर
शहर की बैंक आॅफ इंडिया की शाखा में एक बार फिर केसीसी के नाम पर घोटाला हुआ है। बैंक में एक किसान के नाम पर फर्जी दस्तावेज तैयार कर केसीसी खाता खुलवाया गया और 7.50 लाख रुपए निकाल लिए। मामले का खुलासा तब हुआ जब बैंक से आधार लिंक कराने का मैसेज किसान के पास पहुंचा। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। थाना राजनगर के अंतर्गत ग्राम महाराजगंज निवासी मैयादीन पटेल ने कोतवाली में शिकायती आवेदन देकर आरोप लगाया कि वह शहडोल में हाउसिंग बोर्ड विभाग में पदस्थ हंै। उनके पास 28 जुलाई को बैंक आॅफ इण्डिया से नोटिस प्राप्त हुआ कि केसीसी के खाता 9442321140 फाइल क्रमांक 198 में आधार कार्ड 7 दिन के अंदर लिंक कराया जाना है। मैयादीन पटेल का कहना है कि उन्होंने न तो बैंक आॅफ इण्डिया में आज तक कोई खाता खोला है और न किसी प्रकार को लेन-देन किया। वह अपने लड़के सुनील और फूफा हिसाबी के साथ बैंक आॅफ इंडिया गए। वहां पता किया तो जानकारी मिली कि उनके नाम से फर्जी दस्तावेज और फोटो लगाकर फर्जी केसीसी खाता खोलकर 7 लाख 50 हजार रुपये केसीसी लोन स्वीकृत करा लिया गया है। 
 
बहन की जगह लगा दी अन्य महिला की फर्जी फोटो
फरियादी मैयादीन ने बताया कि हेरफेर करने वालों ने उसके नाम से खुले केसीसी खाते में जमानतदार में उसकी स्व. बहन हरबी की जगह अन्य किसी की फोटो चस्पा की गई है। इस पर मैयादीन से बैंक मैनेजर ने कहा कि यदि आपके नाम से फर्जी खाता खोला गया है और फर्जी दस्तावेज तैयार किये हैं तो इसकी शिकायत पुलिस में करें। तब मैयादीन ने घर जाकर जमीन से संबंधित भू-ऋण पुस्तिका की जानकारी ली तो उसके लड़के सुनील ने बताया कि सभी कागज चाचा दानू पटेल, राजू पटेल, चाची केरा पटेल 3 साल पहले दाखिल खारिज कराने के लिए ले गये थे। उसका आरोप है कि इन्हीं लोगों ने बैंक में खाता खोलने के लिए फर्जी फोटो, फर्जी हस्ताक्षर तथा कूट रचित दस्तावेज तैयार कर खाता खोला है। 
 
भाई, मैनेजर, दलालों का कारनामा
मैयादीन का आरोप है कि उक्त फर्जी केसीसी खाता खुलते समय पदस्थ बैंक मैनेजर, फील्ड आॅफीसर एवं बैंक के दलालों ने दानू पटेल, राजू पटेल, बहू केरा पटेल व सर्च रिपोर्ट लगाने वाले अधिवक्ता एवं उक्त खाते में लगे स्टाम्प बेंडर द्वारा अनुचित लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से साढ़े 7 लाख का फर्जी घोटाला किया है। कोतवाली पुलिस ने आवेदन लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है। 

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार