टी-20 में अंपायरों की गलती पर हंगामा, BCCI ने मांगी रिपोर्ट

On Date : 12 January, 2018, 11:33 AM
0 Comments
Share |

नई दिल्ली : विशाखापत्तनम में सैयद मुश्ताक अली टी20 टूर्नामेंट कर्नाटक और हैदराबाद के बीच चल रहे मैच में एक अजीब वाकया हुआ. कर्नाटक ने पहले बल्लेबाजी की लेकिन उनकी पारी खत्म होने के बाद, थर्ड अंपायर के रीप्ले देखकर ‘भूल’ सुधार की औ स्कोर में दो रन पारी खत्म होने के बाद जोड़ दिए. मजेदार बात यह रही कि हैदराबाद मैच को दो ही रन से हार गया. इसी पर हैदराबाद के खिलाड़ियों ने आपत्ति उठाई और हंगामा कर दिया.

बताया जा रहा है कि कुछ गलती हैदराबाद के कप्तान अंबाती रायडू की भी जिन्हें हैदराबाद की पारी शुरू होते समय ही मामला स्पष्ट करवा लेना था, लेकिन रायडू का कहना है कि उन्होंने अंपायरों से बात की थी जिसके जवाब में अंपायरों ने मैच खत्म होने के बाद इस पर फैसला किया जाएगा.

एक घंटे चले इस हंगामे की वजह से आंध्र और केरल के बीच होने वाले अगले मुकाबले को 13-13 ओवर का करवाना पड़ा. बीसीसीआई ने इस मामले में संज्ञान लिया है और रिपोर्ट मांगी है. पूरी संभावना है कि बीसीसीआई इस मामले में कार्यावाही कर सकती है क्योंकि बीसीसीआई ने मामले को पूरी गंभीरता से लिया है.


कर्नाटक जब टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी कर रही थी, तब कर्नाटक के ओपनर करुण नायर ने मोहम्मद सिराज की बॉल को मिडविकेट की बाउंड्री तक पहुंचाया. चौका बचाने के चक्कर में  हैदराबाद के मेहंदी हसन का पैर फील्डिंग के दौरान बाउंड्री की रस्सी को छू गया था, लेकिन अंपायरों को पता नहीं चला और जहां 4 रन मिलने चाहिए थे सिर्फ 2 रन ही दिए गए. पारी समाप्त होने पर जब टीवी रिप्ले देखने के बाद कर्नाटक के खिलाडियों ने थर्ड अंपायर को इस बारे मे सूचना दी, तो कर्नाटक के स्कोर में 2 रन जोड़ दिए गए. लेकिन स्कोरर और मैदानी अंपायरों के बीच तालमेल की गड़बड़ी के चलते वे 2 रन स्कोर में नहीं जुड़ सके.

205 रन का पीछा करने उतरी हैदराबाद की टीम ने निर्धारित 20 ओवर में 203 रन बना दिए. लेकिन मैच खत्म होने के बाद हैदराबाद के कप्तान अंबाती रायडू अपनी टीम के साथ मैदान पर आए और सुपर ओवर करवाने की मांग करने लगे. रायडू का कहना था कि, उन्हें भी नियमों के बारे में पता है, अगर अंपायर किसी को आउट देते हैं और वह मैदान के बाहर चला जाता है. यदि उसके बाहर जाने के बाद पता चले कि बल्लेबाज़ को गलत आउट दिया गया है, तो क्या उसे वापस बल्लेबाज़ी के लिए बुलाया जाता है? रायडू का कहना था कि अगर कोई अंपायर किसी गेंद को नो-बॉल न दे और बाद में पता चले कि वो गेंद नो बॉल थी, तो क्या उसका रन बाद में स्कोर में जोड़ा जाता है? लेकिन अंपायर अपना फैसला दे चुके थे और वो कर्नाटक को विजेता घोषित कर चुके थे.

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार