सौ फीसदी टीकाकरण में स्थानीय जनप्रतिनिधियों की महती भूमिका

On Date : 07 October, 2017, 10:18 PM
0 Comments
Share |

जिला टास्क फोर्स की बैठक में बोले कलेक्टर
प्रदेश टुडे संवाददाता, रायसेन
जिले में मिशन इन्द्रधनुष के अंतर्गत 07 अक्टूबर से 18 अक्टूबर तक चलने वाले प्रथम चरण में शत-प्रतिशत टीकाकरण के लिए कलेक्ट्रेट कार्यालय के सभाकक्ष में जिला टास्क फोर्स की बैठक आयोजित की गई। बैठक में कलेक्टर भावना वालिम्बे ने कहा कि शत-प्रतिशत टीकाकरण में स्थानीय जनप्रतिनिधियों की महती भूमिका है। कलेक्टर वालिम्बे ने स्वास्थ्य तथा महिला बाल विकास विभाग के अधिकारियों से कहा कि वे स्थानीय जनप्रतिनिधियों सरपंच, पंच, पार्षद एवं अध्यक्ष से अपने क्षेत्र के बच्चों का शत-प्रतिशत टीकाकरण कराने में सक्रिय रूप से सहयोग करने का आग्रह करें।  उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को संबंधित पंचायतों के टीकाकरण की सूची सरपंच, पंच, पार्षदों को देने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि टीकाकरण की दृष्टि से हाईरिस्क एरिया के लिए विशेष रूप से योजना बनाई जाए, ताकि कोई भी बच्चा टीकाकरण से छूटे नहीं। कलेक्टर श्रीमती वालिम्बे ने बताया कि स्थानीय जनप्रतिनिधियों को बताया जाए कि शत-प्रतिशत टीकाकरण के लिए ग्राम पंचायत स्तर पर दो लाख रूपए का पुरस्कार दिया जाएगा। जिसमें से अधिकतम 10 हजार रूपए तक की राशि सरपंच, उपसरपंच को प्रदान की जाएगी तथा शेष 10 हजार रूपए की राशि टीकाकरण के लक्ष्य प्राप्ति के लिए उत्कृष्ट कार्य करने वाले मैदानी अमले को दी जाएगी। कलेक्टर श्रीमती वालिम्बे ने कहा कि जिले के शत-प्रतिशत बच्चों का टीकाकरण करने के लिए जरूरी है कि मंजरे टोलों, ईट भट्टे, पहाड़ी क्षेत्रों, आदिवासी बहुल क्षेत्रों, औद्योगिक क्षेत्र सहित अन्य क्षेत्रों में टीकाकरण में आने वाली समस्याओं को ध्यान में रखते हुए काम किया जाए। उन्होंने ब्लॉक स्तर पर गत टीकाकरण तथा आगामी टीकाकरण के लिए प्रशिक्षण की विस्तार से समीक्षा की। उन्होंने प्रशिक्षण में अनुपस्थित रहने वाले स्वास्थ्यकर्मियों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए। 
 
पुरस्कार स्वरूप मिलेंगे दो लाख 
बैठक में जानकारी दी गई कि मिशन इन्द्रधनुष के तहत रायसेन सहित प्रदेश के 13 जिलों के ग्रामीण क्षेत्रों में शत-प्रतिशत टीकाकरण के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए पुरस्कार योजना लागू की गई है। इस पुरस्कार योजना का उद्देश्य चिन्हित 13 जिलों के ग्रामीण क्षेत्रों में 31 जनवरी 2018 तक शत-प्रतिशत टीकाकरण लक्ष्य को प्राप्त करना है। शत-प्रतिशत टीकाकरण से आशय दो वर्ष तक की उम्र के समस्त बच्चों का सूचीकरण आरसीएच पोर्टल में इन्द्राज तथा ड्यूलिस्टिंग के साथ निर्धारित आयु सीमा का पालन करते हुए टीकाकरण करने से हैं। इस पुरस्कार योजना के तहत जिला स्तर पर दो लाख रूपए, स्वास्थ्य विभाग के सेक्टर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र स्तर पर एक लाख रूपए तथा ग्राम पंचायत स्तर पर दो लाख रूपए का पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। जिला एवं सेक्टर स्तर के पुरस्कार में से किसी भी व्यक्ति विशेष को अधिकतम 10 प्रतिशत राशि दी जा सकेगी। शेष पुरस्कार राशि जिला एवं सेक्टर स्तर पर के उत्कृष्ट कार्य करने वाले व्यक्तियों को वितरित की जाएगी। पुरस्कार राशि स्वास्थ्य विभाग द्वारा उपलब्ध कराई जाएगी। ग्राम पंचायत की पुरस्कार राशि दो लाख रूपए में से 20 हजार रूपए पुरस्कार वितरण किया जाएगा तथा शेष एक लाख 80 हजार रूपए की राशि ग्राम पंचायत अधोसंरचना विकास के कार्यो में व्यय की जाएगी।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार