अफसर-कर्मचारी लेंगे ‘आनंदम्’ की ट्रेनिंग

On Date : 17 July, 2017, 12:38 PM
0 Comments
Share |

अ लाइफ आॅफ हैप्पीनेस एंड फुलफिलमेंट कोर्स से सीखेंगे जीवन शैली
भोपाल।
प्रदेश सरकार के अधीन सेवाएं देने वाले विभागीय अधिकारी और कर्मचारी जल्द ही आनंद विभाग द्वारा चलाए जाने वाले ‘जीवन शैली प्रशिक्षण’ कार्यक्रम का हिस्सा बन सकेंगे। इसके लिए शासन ने विभाग प्रमुखों को अपने अफसरों और कर्मचारियों को अ लाइफ आॅफ हैप्पीनेस एंड फुलफिलमेंट आॅन लाइन प्रशिक्षण हासिल कराने के लिए पत्र भेजा है। इसमें आनंद गतिविधियों के संचालन के लिए उपलब्ध कराए गए बजट को किस तरह व्यय करना है, इस संबंध में निर्देश भी दिए गए हैं।
विभाग द्वारा अधिकारियों अथवा कर्मचारियों को प्रशिक्षण हासिल करने के लिए 20 हजार रुपए तक की फीस का भुगतान करना होगा। यदि कार्यक्रम की फीस इससे ज्यादा होती है तो उसका भुगतान संबंधित सेवक को खुद करना पड़ेगा। निर्देश के मुताबिक टीए-डीए का भुगतान पात्रतानुसार नियमित मद से होगा और प्रशिक्षण अवधि शासकीय सेवा पर ड्यूटी मानी जाएगी।

ऐसा है आॅनलाइन पाठ्यक्रम
अ लाइफ आॅफ हैप्पीनेस एंड फुलफिलमेंट नामक पाठ्यक्रम आॅनलाइन उपलब्ध है। इसको डॉ. राज रघुनाथन ने तैयार किया है। कोर्स नि:शुल्क व सशुक्ल दोनों है। शुल्क में औपचारिक प्रमाण पत्र के साथ पाठ्य सामग्री मुहैया होगी। प्रमाण पत्र मिलने के बाद संबंधित विभाग अपने अधिकारी और कर्मचारी को इस फीस की प्रतिपूर्ति करेगा। लोकसेवक राज्य आनंद संस्थान को प्रमाण पत्र भेजेंगे ताकि उन्हें आनंदक या रिसोर्स पर्सन के रूप में पंजीकृत कर सकें।

3 माह बाद हिंदी में भी  
ये कोर्स अंग्रेजी में  है। लोगों को यह कोर्स हिंदी में उपलब्ध हो सके इसके लिए आनंद संस्थान इसका अनुवाद कर रहा है।  3 माह बाद यह संस्करण आ जाएगा।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार