दो साल बाद भी स्मार्ट सिटी के काम अधूरे, दावे फेल

On Date : 15 July, 2017, 9:36 PM
0 Comments
Share |

जनता अभी भी धूल और गंदगी से परेशान, बिजली के सिर्फ खंभे गड़े  
प्रदेश टुडे संवाददाता, इंदौर
महूनाका से टोरी कॉर्नर के बीच शहर की पहली स्मार्ट सड़क बनाई जा रही है, इसका काम शुरू हुए दो साल से ज्यादा हो गए हैं, लेकिन अबतक इस सड़क का काम अधूरा है। सड़क खुदी पड़ी हैं,ड्रेनेज और पानी की लाइन का काम भी पूरा नहीं हुआ है। साल 2015 में शहर के स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में चुने जाने के बाद महूनाका से टोरी कॉर्नर के बीच स्मार्ट सड़क बनाने का काम शुरू हुआ था, इस हिस्से में सड़क चौड़ीकरण के साथ ही ड्रेनेज,पानी और इंटरनेट कनेक्टिविटी जैसी सुविधाएं जनता को दी जानी थी, लेकिन दो साल बाद भी सड़क का काम पूरा नहीं हो पाया है। जनता अभी भी धूल और गंदगी से परेशान है। 
 
तीस क रोड़ का बजट 
महू  नाका से टोरी कार्नर तक स्मार्ट सिटी के तहत बनाई जा रही सड़क के लिए 30 करोड़ का बजट है। इसी से  सड़क का निर्माण होना है। जिसमें ड्रेनेज लाइन, पानी की लाइन और सड़क क ा निर्माण होना है। फिलहाल कुछ भी  पूरा नहीं हुआ है। बिजली के खंभे मात्र खड़े किए गए हैं। बारिस के दिन आ गए  है इसलिए  संभावना यह है कि बरसात बाद ही अब इस सड़क का निर्माण कार्य पूर्ण हो पाएगा।
 
दावा हकीकत से कोसों दूर
निगम बजट के दौरान हुई बहस में जनकार्य प्रभारी शंकर यादव ने तीस जून तक महूनाका से मालगंज चैराहे के बीच यातायात शुरू करने का ऐलान किया था,लेकिन ये दावा हकीकत से कोसों दूर है,क्योंकि अभी भी इस हिस्से में काफी काम बचा है और मॉनसून आ गया है। 
 
ड्रेनेज लाइन का काम अधूरा
मौके पर महूनाका से मालगंज के बीच अभी भी काम चल रहा है,ना तो ड्रेनेज लाइन का काम पूरा हुआ है और ना ही स्टॉर्म वॉटर लाइन डली है। सड़क पर लगे बिजली के खंभे जरूर शिफ्ट हुए हैं। लेकिन इनका भी काम पूरा नहीं हुआ है। ऐसे में  इस हिस्से पर यातायात शुरू करने के दावे में दम नजर नहीं आ रहा है। जगह-जगह सड़क खुदी पड़ी है। बीच सड़क पर  मिट्टी,गिट्टी और मलबे का ढेर लगा हुआ है। एक ड्रेनेज लाइन डालने के लिए कई मर्तबा सड़क खोदी गई है,इससे क्षेत्र की जनता परेशान हो चुकी है। बारिश में उनकी आफत और बढ़ रही है। निगम जनकार्य समिति प्रभारी शंकर यादव का कहना है कि 30 करोड़ का बजट है। निर्माण कार्य चल  रहा है। कुछ हद  तक पूरा हो गया है। कुछ अडचनें आ रही है। कोशिश है कि मालगंज से महूनाका के बीच यातायात  चालू कर दिया जाए,लेकिन यह अभी तक नहीं हो पाया है। पानी गिरने से लोगों को परेशानी आ रही है। यह बात मैं भी मानता हूं।

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार