मंत्री-विधायक सब कतार में किया इंतजार और डाला वोट

On Date : 17 July, 2017, 2:08 PM
0 Comments
Share |

राष्ट्रपति चुनाव: सबसे पहले वोट के लिए डेढ़ घंटा पहले पहुंचे MLA
राजनीतिक संवाददाता, भोपाल :
राष्ट्रपति चुनाव को लेकर हो रही वोटिंग को लेकर मंत्री और विधायकों मेंं खासा उत्साह था। एमएलए, मंत्रियों का कहना था कि यह उनके लिए गौरव और सौभाग्य की बात है कि राष्ट्रपति चुनाव में उन्हें वोट डालने का मौका मिल रहा है। राज्यमंत्री संजय पाठक ने कहा कि यह उनका सौभाग्य है कि उन्हें मत डालने का अवसर मिला है। उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि एनडीए के प्रत्याशी रामनाथ कोविंद भारी मतों से विजयी होंगे। सामान्य प्रशासन मंत्री लाल सिंह आर्य ने कहा कि राष्टÑपति चुनाव में वोट कर वे गर्व का अनुभव कर रहे हैं। उन्होंने भी कोविंद की जीत की बात कही। किसान कल्याण मंत्री गौरीशंकर बिसेन ने कहा कि रामनाथ कोविंद विधिवेत्ता हैं और संघर्षों से आगे बढ़े हैं। भाजपा ने उनकी प्रतिभा का सम्मान किया है।

दिवंगतों को श्रद्धांजलि देने के बाद सदन स्थगित
आज से शुरू हुए विधानसभा के मानसून सत्र के पहले दिन की कार्यवाही दिवंगतों को श्रद्धांजलि देने के बाद मंगलवार तक के लिए स्थगित कर दी गई। आज सदन के समवेत होते ही अध्यक्ष डाक्टर सीतासरन शर्मा ने निधन की सूचनाओं का उल्लेख किया। अध्यक्ष ने केन्द्रीय मंत्री रहे अनिल माधव दवे, चित्रकूट से कांगे्रस विधायक प्रेम सिंह, दशारी नारायण राव, पूर्व सांसद फतेहभानू सिंह चौहान, पूर्व मंत्री सत्यनारायण अग्रवाल, पूर्व विधायक नारायण सिंह पवांर, पंजाब के पूर्व पुलिस महानिदेशक केपीएस गिल के अलावा मंदसौर में हुए किसान आंदोलन के दौरान हुई हिंसा में मृत व्यक्तियों, बालाघाट में पटाखा फैक्ट्री में हुए विस्फोट में मृत व्यक्ति एवं अनंतनाग में अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकी हमले में मृत व्यक्तियों के निधन की सूचनाओं का उल्लेख किया। भाजपा की ओर से सदन के नेता सीएम शिवराज सिंह चौहान, नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह, बसपा विधायक दल के नेता सत्य प्रकाश सखवार और विधानसभा उपाध्यक्ष राजेन्द्र सिंह ने मृत व्यक्तियों को अपने अपने दल की ओर से श्रद्धासुमन अर्पित किए। इसके बाद मृतकों को श्रद्धांजलि देते हुए दो मिनट का मौन रखा गया। इसके बाद अध्यक्ष ने दिवंगतों के सम्मान में विधानसभा की कार्यवाही मंगलवार तक के लिए स्थगित कर दी।

कांग्रेस पर्यवेक्षक बोले, अंतर्आत्मा की आवाज पर दें वोट
राष्ट्रपति चुनाव में दिल्ली से आए कांग्रेस पर्यवेक्षक कृपाशंकर ने कहा कि यह विचारधारा का चुनाव है। उन्होंने कहा कि इस चुनाव में विधायकों को अपनी अंतरआत्मा की आवाज पर वोट डालना चाहिए। आज विधानसभा परिसर स्थित नेता प्रतिपक्ष के कक्ष में उन्होंने राष्टÑपति चुनाव की प्रक्रिया को लेकर कांग्रेस विधायकों से चर्चा की। इस दौरान सदन में सत्र के दौरान उठाए जाने वाले मुद्दों को लेकर भी बात हुई।

दलित महिला होने के कारण सरकार दबा रही है: खटीक
शिवपुरी की करेरा से कांग्रेस विधायक शकुन्तला खटीक ने आरोप लगाया है कि दलित महिला होने के कारण सरकार उन्हें दबा रही है। पत्रकारों से चर्चा में उन्होंने कहा कि जरा सी बात पर सरकार ने द्वेषवश नौ- नौ धाराओं में मामला दर्ज करवा दिया। उन्होंने कहा कि मैंने तो जरा सी बात कही थी। गौरतलब है कि खटीक ने अपने क्षेत्र में हुए प्रदर्शन के दौरान थाना में आग लगाने के लिए  अपने समर्थकों को उकसाया था, इस पर उनके खिलाफ पुलिस ने प्रकरण दर्ज किया था। दो दिन पहले ही उन्हें सुप्रीम कोर्ट से अग्रिम जमानत मिली है।

बीमार हर्ष सिंह ने डाला वोट
बीमारी के बावजूद मंत्री हर्ष सिंह और और विधायक रमाकांत तिवारी भी वोट डालने पहुंचे। गौरीशंकर बिसेन धोती कुर्ता के साथ मालवी टोपी लगाए थे। मंत्री संजय पाठक धोती कुर्ता पहनकर विधानसभा आए और वोट डालने की कतार में लगे।

मुख्यमंत्री कराएं मंत्रियों की मानसिकता की जांच: अजय सिंह
मंत्री नरोत्तम मिश्रा के इस्तीफे को लेकर दिए गए बयान पर राजनीति होते देख नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा है कि मेरा काम उपद्रव करना व दहशत फैलाना नहीं हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा से किसान और जनता दहशत में हैं। जिन विधायकों व मंत्रियों ने दहशत में होने की बात कही है उनकी मानसिकता की जांच मुख्यमंत्री को कराना चाहिए। अस्पतालों की ओपीडी में ज्योतिषियों से इलाज कराने संबंधी सरकार के फैसले के मामले में उन्होंने कहा कि अगर ज्योतिषियों से ओपीडी चलेगी तो स्वास्थ्य विभाग और चिकित्सा का क्या होगा? इसका भगवान मालिक है। नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने पेंशनरों को सातवें वेतनमान का लाभ दिए जाने में हीलाहवाली को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को चिट्ठी लिखी है।

 सिंह ने कहा है कि प्रदेश के साढ़े 4 लाख पेंशनरों को केंद्र के समान सातवें वेतनमान की तरह पेंशन मिलनी चाहिए। पेंशनर्स को पुनरीक्षित वेतनमान सीएम सचिवालय में क्यों लंबित है? इसकी जांच कराई जाए।

नरोत्तम मामला सब ज्यूडियस नहीं करूंगा टिप्पणी: स्पीकर
विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीतासरन शर्मा ने कहा कि मंत्री नरोत्तम मिश्रा की विधायकी का मामला अभी न्यायालय में विचाराधीन है लिहाजा वे फिलहाल इस मामले पर कोई टिप्पणी नहीं करेंगे। पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि हाईकोर्ट की डबल बैंच का फैसला उन्हें अभी नहीं मिला है। उन्होंने कहा कि इस मामले में कानूनी सलाह ली जाएगी। अध्यक्ष ने उम्मीद जताई की पावस सत्र के पहले इस मामले में कुछ निर्णय हो सकता है।

नमामि देवि नर्मदे यात्रा में शामिल आगंतुकों के खर्च व परिवहन का हिसाब सरकार के पास नहीं
भोपाल। पांच माह तक चली नमामि देवि नर्मदे सेवा यात्रा में शामिल होने आए आगंतुकों के खर्च का हिसाब सरकार के पास नहीं है। सरकार यह जरूर बता पा रही है कि इस यात्रा पर 21.58 करोड़ रुपए से अधिक का खर्च आया है। इसके साथ ही प्रचार प्रसार और विज्ञापन पर 33.07 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। विधायक जीतू पटवारी ने विधानसभा के माध्यम से सरकार से पूछा था कि नमामि देवि नर्मदे यात्रा पर हुए खर्च की जानकारी दी जाए। साथ ही सोशल मीडि

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

मसाला ख़बरें

रूही सिंह ने सोशल मीडीया पर बिखेर अपने हुस्न के जलवे

मुंबई: फिल्म 'कैलेंडर गर्ल्स' से अपने करियर की शुरुआत करने वाली रूही सिंह इन दिनों अपनी हॉट इंस्टाग्राम...

जैकी श्रॉफ की बेटी ने फिर दिखाई बोल्ड अदाएं

मुंबई: बॉलीवुड अभिनेता जैकी श्रॉफ की बेटी कृष्णा श्रॉफ अपनी तस्वीरों की वजह से सोशल मीडिया चर्चा में...

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार