राहुल ने कांग्रेस के दौर में क्यों नहीं निकाला कैंडल मार्च : प्रकाश जावड़ेकर

On Date : 15 April, 2018, 7:30 PM
0 Comments
Share |

नई दिल्ली: केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने रविवार को बीजेपी के मुख्यालय में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान जावड़ेकर ने कठुआ केस में न्याय और दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलने की उम्मीद जताई. लेकिन इसी के साथ उन्होंने विपक्ष द्वारा लगाए जा रहे आरोपों का भी जवाब दिया. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के कैंडल मार्च को निशाने पर लेते हुए जावड़ेकर ने कहा कि राहुल ने निर्भया मामले में मार्च नहीं किया था.

'अपने प्रदेश अध्यक्ष पर कार्रवाई करें राहुल'
प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि कठुआ केस में जब पुलिस ने अभियुक्तों को पकड़ना शुरू किया, तो जम्मू-कश्मीर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गुलाम मीर ने भी जांच को सही नहीं ठहराते हुए कहा था कि स्थानीय लोगों का मानना है असली दोषी बाहर है. जावड़ेकर ने कहा, 'हमारे दो मंत्रियों ने स्थानीय लोगों की इस भावना को उजागर किया, तो मीडिया और कांग्रेस ने हल्ला मचा दिया. हमने कार्रवाई की और उन्होंने अपना इस्तीफा दे दिया.' जावड़ेकर ने कहा कि राहुल रात में कैंडल मार्च निकालते हैं, लेकिन अपने प्रदेश अध्यक्ष पर कार्रवाई क्यों नहीं करते हैं.
'अब तक चुप क्यों रहे राहुल गांधी?'
प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि निर्भया मामले के दौरान पूरा देश उद्वेलित हुआ, लेकिन तब राहुल ने कैंडल मार्च नहीं निकाला. हरियाणा में महिलाओं पर अत्याचार हुआ, वहां कोई एक्शन नहीं लिया. कांग्रेस के कार्यकाल में हुए रेप केसों पर राहुल चुपचाप रहे.

'दोषियों को कड़ी सजा दी जाए'
जावड़ेकर ने कहा कि कठुआ मामले की जितनी भर्त्सना की जाए, वो कम है. बच्ची को न्याय देने के लिए दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा होनी चाहिए. न्याय होगा और जैसा पीएम ने कहा कि देश की बेटियों को आगे बढ़ाना है.

बीजेपी को बदनाम करने की साजिश
जावड़ेकर ने बताया कि एक टीवी चैनल ने दिखाया, दिल्ली में राम नवमी पर एक मस्जिद के सामने जो लोग भगवा पहन कर नारे लगा रहे थे, वे आम आदमी पार्टी के लोग थे. बीजेपी का सीधे मुकाबला नहीं कर सकते, इसलिए ऐसे हथकंडे विपक्ष अपना रहा है. वहीं दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने भी आरोप लगाया कि AAP और कांग्रेस समाज को तोड़ने का प्रयास कर रहे हैं. मनोज तिवारी ने कहा कि विपक्ष के लोग विकास के मुद्दे पर चुनाव नहीं लड़ सकते, इसलिए दंगा फैलाने की कोशिश की जा रही है. बीजेपी को बदनाम करने की साजिश हो रही है.

आपकी राय

Name
Email
Comment
No comments post, Be first to post comments!

प्रदेश टुडे मैगज़ीन

November, 2014

ब्लॉग

शेयर बाज़ार