अगर आप लंबे समय तक जवान बने रहना चाहते हैं तो आपको अपनी दिनचर्या तुरंत बदलनी होगी। एक शोध में खुलासा हुआ है कि अगर आप रोजाना 4-5 बार एक्सर्साइज़ करना शुरू दें तो आपका हार्ट हेल्दी रहेगा और आप पर बढ़ती उम्र का प्रभाव देर से पड़ेगा।

इस शोध के अनुसार, एक्सर्साइज़ को दिए गए समय के अनुसार विभिन्न प्रकार की धमनियों पर विभिन्न प्रभाव होते हैं। एक हफ्ते में 30 मिनट के हिसाब से 2-3 दिन एक्सर्साइज़ मध्यम आकार की धमनियों की कठोरता कम करने के लिए पर्याप्त हो सकता है, जबकि हर हफ्ते 4-5 दिन एक्सर्साइज़ लंबी केंद्रीय धमनियों को युवा बनाए रखता है।

टेक्सस विश्वविद्यालय में इस शोध के लेखकों में से एक बेंजामिन लेवाइन ने कहा कि इस शोध से दिल को युवा रखने, यहां तक कि उम्रदराज लोगों के दिल को भी युवा बनाने के व्यायाम कार्यक्रम को विकसित करने में मदद मिलेगी। दिल में खून का सर्कुलेशन करने वाली धमनियां उम्र के साथ कठोर होने लगती हैं, जिससे हृदय संबंधी बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। जर्नल ऑफ फ़िज़ियॉलजी में प्रकाशित शोध के लिए शोध दल ने 60 साल से ज्यादा के 102 लोगों का परीक्षण किया। इस दौरान उनके जीवन भर की एक्सर्साइज़ का ब्योरा लिया गया।

जीवन भर सामान्य एक्सर्साइज़ (प्रति हफ्ते 2-3 बार) करने वाले लोगों की मध्यम आकार की धमनियां अधिक युवा पाई गईं। ये धमनियां दिमाग और गर्दन में रक्त संचार करती हैं। वहीं, प्रति सप्ताह 4-5 बार व्यायाम करने से लंबी केंद्रीय धमनियों को युवा रखने में सहायक होती हैं। ये कोशिकाएं सीने तथा पेट में ब्लड का सर्कुलेशन करती हैं। इसके अलावा यह मध्यम आकार की धमनियों को स्वस्थ रखती हैं।

शोधकर्ताओं ने बताया कि बड़े आकार की धमनियों को उम्र का प्रभाव कम करने के लिए और कम अंतराल पर व्यायाम करने की जरूरत होती है। लेवाइन ने कहा कि शोध की सहायता से यह जानने में सहायता मिलेगी कि क्या सही मात्रा में व्यायाम करने पर धमनियों और दिल को दोबारा युवा करने में सहायता मिल सकती है।