फिरोजाबाद : यूपी के फिरोजाबाद में रविवार (27 मई) को मालगाड़ी के छह डिब्‍बे पटरी से उतर गए. इससे वहां बड़ा रेल हादसा होने से टल गया. मालगाड़ी के डिब्‍बे पटरी से उतरने के बाद रेल यातायात काफी समय के लिए बाधित हो गया. भीषण गर्मी में रेल यातायात बाधित होने से रेल यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा. घंटों की मशक्‍कत के बाद मालगाड़ी के डिब्‍बों को मार्ग से हटाया जा सका, जिसके बाद रेल यातायात फिर से शुरू हो सका.

रविवार को दिल्ली से कानपुर जा रही मालगाड़ी फिरोजाबाद रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर एक की लूप लाइन पर अचानक ही धड़धड़ाते हुए रेलवे ट्रैक छोड़कर प्लेटफार्म की ओर डिरेल हो गई. रेलवे अधिकारियों ने जब मौके पर जाकर देखा तो रेलवे की पटरी टूटी हुई पड़ी थी और यहां तक कि पटरी को जोड़कर रखने वाली फिश प्लेट भी उखड़ी हुई थी. मालगाड़ी के 6 डिब्बे जैसे ही पटरी से उतरे रेल विभाग में हड़कंप मच गया.

घटना के बाद सुरक्षा की दृष्टि से ट्रेनों को जहां का तहां रोकना पड़ा. टूंडला, अलीगढ़ और गाजियाबाद समेत अन्य स्थानों पर भी कई ट्रेनों को रोका गया. भीषण गर्मी में यात्री बेहद परेशान दिखे. लेकिन घटना के एक घंटे बाद भी इस रेलवे ट्रैक को साफ करने का या ट्रेन को हटाने का कार्य शुरू नहीं हो सका था. अधिकारी मौके पर पहुंचे तो थे लेकिन मीडिया से बचते दिखाई दिए. मालगाड़ी की जगह इस रेलवे ट्रैक पर सवारी गाड़ी भी तेज गति से निकलती हैं और घटना से कुछ समय पहले ही एक पैसेंजर ट्रेन भी इसी ट्रैक पर निकली थी. यदि सवारी गाड़ी के साथ घटना घटी होती तो हादसा बड़ा हो सकता था. फिलहाल रेलवे के बड़े अधिकारी इस विषय पर कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं. परेशान यात्रियों ने रेलवे स्टेशन परिसर में हंगामा काटा. रुकी हुई ट्रेनों के यात्री पैसे वापस की मांग करने लगे. फिलहाल रेल यातायात को दुरुस्त करने के लिए रेलवे की टीम लगी हुई है.