न्यूयॉर्कः सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) कंपनी इंफोसिस के सह-संस्थापक नंदन निलेकणि, उनकी पत्नी रोहिणी निलेकणि और भारतीय मूल के तीन उद्योगपतियों ने बिल गेट्स, मेलिंडा गेट्स तथा वारेन बफे द्वारा शुरू किए गए समाज कल्याणकारी मुहिम ‘गिविंग प्लेज’ से जुड़ते हुए अपनी आधी से अधिक संपत्ति परमार्थ कार्यों के लिए दान करने की घोषणा की है।

गिविंग प्लेज ने कल कहा कि अमेरिका के 40 उद्योगपतियों के साथ 2010 में शुरू हुई इस मुहिम से अब तक 22 देशों के 183 उद्योगपति जुड़ चुके हैं। बफे ने एक बयान में कहा, ‘‘पिछले आठ साल में हम उन परोपकारियों से प्रेरित होते रहे हैं जिन्होंने गिविंग प्लेज से जुड़ने का निर्णय लिया और यह साल भी अपवाद नहीं रहा। वे दुनिया में हर किसी के जीवन का स्तर बेहतर करने और असमानता दूर करने के में अपनी संपत्ति का इस्तेमाल करने को उत्सुक हैं।’’ पिछले साल जुड़े भारतीय मूल के उद्योगपतियों में निलेकणि दंपत्ति के अलावा अनील एवं एलिसन भूसरी, शमशीर एवं शबीना वायालिल और बीआर शेट्टी एवं उनकी पत्नी चंद्रकुमारी रघुराम शेट्टी शामिल हैं।