इस्लामाबाद : पाकिस्तान की पीएमएल (एन) सरकार ने गुरुवार को अपना पांच वर्ष का कार्यकाल पूरा कर लिया. देश के सात दशकों के इतिहास में पहली बार लोकतांत्रिक रूप से चुनी गई सरकार ने लगातार दो बार अपना कार्यकाल पूरा किया. अधिकतर समय तक देश की शक्तिशाली सेना ने शासन किया. 2013 में पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी ने आम चुनावों के बाद सत्ता पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) को सौंपी थी.

संसदीय मामलों के मंत्रालय ने एक अधिसूचना जारी कर 31 मई, 2018 की मध्य रात्रि को 14वीं नेशनल एसेंबली के भंग होने की घोषणा की. मध्य रात्रि के समय तक नेशनल एसेंबली को संवैधानिक रूप से मिले पांच वर्षों का कार्यकाल समाप्त हो जाएगा और 25 जुलाई, 2018 को आम चुनाव होने तक देश के मामलों को कार्यवाहक व्यवस्था संचालित देखेगी.

कार्यवाहक सरकार के प्रमुख पूर्व प्रधान न्यायाधीश नसीरूल मुल्क को शुक्रवार शपथ दिलाई जाएगी और नई सरकार के चुने जाने तक वह देश चलाएंगे.