टोरंटो : इस माह से आयोजित हो रही कनाडा टी-20 लीग में ऑस्ट्रेलिया के क्रिकेट खिलाड़ी डेविड वॉर्नर अपने हमवतन स्टीव स्मिथ के साथ खेलेंगे. वेबसाइट 'ईएसपीएनक्रिकइन्फो डॉट कॉम' की रिपोर्ट के अनुसार, इस लीग के जरिए स्मिथ और वॉर्नर क्रिकेट मैदान पर वापसी कर रहे हैं. केपटाउन में इस साल हुए टेस्ट सीरीज के दौरान बॉल टेम्परिंग मामले में फंसने के कारण स्मिथ और वॉर्नर को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया द्वारा 12 माह के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया था.

कनाडा लीग में जहां एक ओर वॉर्नर को विनिपेग हॉक्स के लिए खेलते देखा जाएगा, वहीं स्मिथ को टोरंटो नेशनल का प्रतिनिधित्व करते देखा जाएगा. वॉर्नर 28 जून से 15 जुलाई तक ही कनाडा लीग में हॉक्स का प्रतिनिधित्व कर पाएंगे. इसके बाद वह ऑस्ट्रेलिया के नॉर्दन टेरिटरी का प्रतिनिधित्व करेंगे.

उल्लेखनीय है कि इससे पहले वार्नर के साथ एक साल के लिए प्रतिबंधित किए गए  स्मिथ को भी  कनाडा टी-20 टूर्नामेंट में मार्की खिलाड़ी के तौर पर शामिल होने की इजाजत दे दी गई थी. डेविड वार्नर की तरह स्मिथ भी बॉल प्रकरण के कारण स्मिथ इंडियन प्रीमियर लीग के 11वें सीजन में नहीं खेल पाए थे.

अभी तक स्मिथ और क्रिस लिन दो ही ऐसे ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर थे जिन्हें कनाडा टी-20 टूर्नामेंट में शामिल किया गया है. इसके अलावा शाहिद अफरीदी, लासित मलिंगा, ड्वेन ब्रावो, क्रिस गेल, सुनील नरेन, आंद्रे रसेल, डैरेन सैमी और डेविड मिलर को भी टूर्नामेंट का हिस्सा होंगे. आईसीसी ने आयोजनकर्ताओं के हवाले कहा कि टूर्नामेंट का आयोजन 28 जून से 15 जुलाई तक किया जाएगा जिसमें कनाडा की पांच और वेस्टइंडीज की एक टीम हिस्सा लेगी. इनमें कुल 22 मैच खेले जाएंगे. इसके लिए 30 मई को खिलाड़ियों का ड्राफ्ट निकाला जाएगा.

बता दें कि  पिछले महीने ही स्मिथ और डेविड वार्नर को उनके क्लबों ने ग्रेड क्रिकेट में खेलने की इजाजत दे दी थी. स्मिथ की टीम सदरलैंड और वार्नर की टीम रैंडविक पीटरशेम पहले ही अपने खिलाड़ियों को समर्थन देने की इच्छा जता चुके हैं. आईसीसी ने यह जानकारी देते हुए कहा था कि स्मिथ और वार्नर को सिडनी में ग्रेड क्रिकेट खेलने की अनुमति मिल गई है.

इसके बाद  कैमरून बैनक्रॉफ्ट को भी क्लब क्रिकेट खेलने की अनुमति मिल गई है. वह वेस्टर्न आस्ट्रेलिया के क्लब से क्रिकेट खेलेंगे. यहां 16 वेस्टर्न आस्ट्रेलिया प्रीमियर क्रिकेट क्लबों की आम बैठक में यह फैसला लिया गया. वेस्टर्न आस्ट्रेलिया प्रीमियर क्रिकेट क्लब के नियमों को मुताबिक, क्रिकेट आस्ट्रेलिया (सीए) द्वारा लगाया गय प्रतिंबध क्लब क्रिकेट में भी मान्य होता है. हालांकि न्यू साउथ वेल्स जैसे राज्यों में सीए का प्रतिबंध क्लब क्रिकेट में लागू नहीं होता इसलिए स्मिथ और वार्नर को प्रतिबंध के बाद भी खेलने की अनुमति मिल गई. बैनक्रॉफ्ट का प्रतिबंध इसी साल दिसंबर में समाप्त हो रहा है. इसके बाद वह पर्थ स्कोचर्स और राष्ट्रीय टीम के चयन के लिए उपलब्ध रहेंगे.

वहीं न्यू साउथ वेल्स क्रिकेट एसोसिएशन (एनएसडब्ल्यूसीए) का कहना है कि स्मिथ और वार्नर के रास्ते में वह बाधा नहीं बनेंगे और वे अपने-अपने क्लबों सदरलैंड और रैंडविक पीटरशेम क्लबों की ओर से खेलने के लिए उपलब्ध रहेंगे.  दक्षिण अफ्रीका दौरे पर खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में बॉल टेम्परिंग मामले में क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने स्मिथ और वार्नर पर एक-एक साल का जबकि बैनक्राफ्ट पर नौ महीने का प्रतिबंध लगा रखा है. टीम के कोच डैरेन लेहमन ने भी बाद में सीरीज समाप्त होने के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया था.