पुणे: गुजरात के निर्दलीय विधायक और दलित कार्यकर्ता जिग्नेश मेवानी के खिलाफ यहां मानहानि का केस दर्ज किया गया है। मेवानी की ओर से पुणे के एक स्तंभकार की कथित तौर पर विकृत तस्वीर ट्वीट करने के बाद यह केस दर्ज किया गया। पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

शेफाली वैद्य नाम की स्तंभकार ने एक शिकायत दर्ज कराई जिसके आधार पर मेवानी के खिलाफ तीन जून को आईपीसी की धारा 500 (मानहानि) और सूचना प्रौद्योगिकी कानून की धारा 66 (सी) के तहत पाउड पुलिस थाने में केस दर्ज किया गया।

पुलिस के मुताबिक, मेवानी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, आध्यात्मिक नेता श्री श्री रविशंकर और वैद्य की एक तस्वीर और इसके साथ ही हिंदी फिल्म ‘ओएमजी - ओ माई गॉड’ की एक तस्वीर भी ट्वीट की और कथित तौर पर दोनों तस्वीरों के बीच तुलना की। मेवानी ने बाद में स्वीकार किया कि उन्होंने ऐसी तस्वी ट्वीट की थी जिससे छेड़छाड़ की गई थी। बाद में उन्होंने अपना ट्वीट हटा लिया था और माफी मांगी थी।