नई दिल्ली : भाजपा अध्यक्ष अमित शाह अपने दो दिवसीय दौरे पर छत्तीसगढ़ पहुंच चुके हैं. अपना रोड शो शुरू करते हुए शाह पीपी कॉलेज के ग्राउंड पहुंच गए हैं. जहां से वह जन सभा को संबोधित कर रहे हैं. अपने इस संबोधन के दौरान भाजपा अध्यक्ष ने मिशन-65 के लिए चुनावी शंखनाद कर दिया है. बता दें शाह के इस दौरे का प्रमुख उद्देश्य 2018 का लोक सभा चुनाव है. शाह ने कार्यक्रम में मौजूद जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि 'यहां मौजूद भीड़ ये बता रही है कि फिर से रमन सिंह की सरकार बनेगी. छत्तीसगढ़ सरकार ने प्रदेश को विकास की राह पर ले जाने का काम किया है. विकास यात्रा में इतनी लंबी यात्रा कोई नहीं कर सकता है. यह सिर्फ डॉक्टर रमन सिंह ही कर सकते हैं. बीजेपी सरकार ने ऐसा कोई काम नहीं किया जिससे पार्टी का सिर झुके.'

देश की जनता 4 पीढियों का हिसाब मांग रही है
2018 के लिए चुनावी शंखनाद करते हुए शाह ने कहा कि 'इस बार ऐसी जीत दर्ज करनी है कि कांग्रेस मूल समेत खत्म हो जाए. राहुल गांधी हमसे 4 साल के काम का हिसाब मांग रहें हैं. मैं राहुल गांधी से कहना चाहता हूं राहुल बाबा हमे आपको अपनी सरकार के चार साल का हिसाब देने की जरूरत नहीं है. हम जनता को हिसाब देंगे. देश की जनता आप से चार पीढ़ी का हिसाब मांग रही है.  जनता ने नाना जवाहरलाल नेहरू, नानी इंदिरागांधी, राजीव गांधी और मनमोहन सिंह के साथ कांग्रेस की सरकार देखी है. 55 साल तक कांग्रेस का शासन रहा तो देश का विकास क्यूं नहीं हुआ.'

कांग्रेस ने 55 साल सूखे के अलावा कुछ नहीं किया
अपने संबोधन में शाह ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. साथ ही कांग्रेस के बीते 55 वर्षों के शासन पर भी सवाल उठाए. शाह ने कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए कहा कि "कांग्रेस ने 55 साल तक सुख लेने के अलावे और कुछ नहीं किया है. कांग्रेस छत्तीसगढ़ के विकास का विरोध कर रही है, लेकिन CM रमन सिंह ने हर क्षेत्र में बेहतर काम किया है. छत्तीसगढ़ को धान का कटोरा कहते हैं. लगता है अब कटोरा बड़ा हो गया है."

शाह ने किया सर्जिकल स्ट्राइक का जिक्र
अपने संबोधन में सर्जिकल स्ट्राइक का जिक्र करते हुए शाह ने कहा कि पहले की सरकार पाकिस्तान को जवाब नहीं देती थी. हमारी सरकार ने सर्जिकल स्ट्राइक किया. उनके घर में घुसकर भारत माता की जय बोलते हुए जवान बदला लेकर आये. इस दौरान शाह ने कार्यकर्ताओं को भी संबोधित किया. कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए शाह ने कार्यकर्ताओं को जीत का संकल्प दिलाया और 65+ सीट लाने की अपील की.