नई दिल्ली: केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा कड़ी की जाएगी. माओवादियों द्वारा मोदी की हत्या की कथित साजिश रचने की खबरों के बीच मंत्रालय ने यह बयान दिया है.

प्रधानमंत्री की जान को खतरे की खबरों के मद्देनजर मोदी की सुरक्षा की समीक्षा के लिए गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को एक उच्च - स्तरीय बैठक की जिसमें राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल , केंद्रीय गृह सचिव राजीव गॉबा और खुफिया ब्यूरो (आईबी) के निदेशक राजीव जैन ने शिरकत की.

'सभी जरूरी उपाय किए जाए'
एक आधिकारिक बयान के मुताबिक, गृह मंत्री ने निर्देश दिया कि अन्य एजेंसियों से विचार - विमर्श करके सभी जरूरी उपाय किए जाए ताकि प्रधानमंत्री की सुरक्षा चाक चौबंद की जा सके.

बयान के मुताबिक , गृह मंत्रालय को महाराष्ट्र पुलिस से एक रिपोर्ट मिली है जिसमें माओवादी संगठनों से कथित संबंध रखने वाले कुछ लोगों के बीच प्रधानमंत्री को निशाना बनाने से जुड़े संवाद का जिक्र है.

पुणे पुलिस ने सात जून को एक अदालत को बताया कि उसे प्रतिबंधित भाकपा (माओवादी) से कथित संबंधों के लिए गिरफ्तार किए गए पांच लोगों में से एक के दिल्ली स्थित घर से एक ‘ पत्र ’ मिला जिसमें ‘राजीव गांधी जैसी घटना’ में मोदी को ‘‘ मारने ’’ की साजिश का जिक्र किया गया था.