भय्यू महाराज की मौत की खबर के सबसे सटीक तथ्य नवदुनिया के पास हैं लेकिन खबर की पेशकश लचर रही। क्या करते स्पेस की भी कमी थी। अटलजी पे दवाएं असर कर रही हैं। इसके अलावा संघ मानहानि मामले में राहुल बाबा ने खुद को बेकसूर बताया है। ट्रेनों में किन्नरों के गदर वाली खबर अलग अंदाज की रही। पुलिस को पता ही नहीं चला और आंदोलनकारी कर्मचारी मंत्रालय पहुंच गए। जानदार खबर। हमीदिया के डाक्टर काम के टेंशन में गायब हुए थे और कई जगह घूमने के बाद भोपाल लौट आए। खबर भेतरीन पेश हुई। यहीं इंदौर के कालेज में खुदकुशी करने वाली डॉ. स्मृति की खबर का फालोअप भी मुकम्मल आया।