कत्ल हो तो मेरा सा, मौत हो तो मेरी सी, मेरे सोगवारों में आज मेरा कातिल है। भय्यू महाराज खुदकुशी मामले में पुलिस जांच उनकी बेटी, बीवी और सेवादार विनायक के इर्द गिर्द घूम रही है। महाराज ने सुसाइट नोट में जायदाद की देखरेख में बेटी के बजाए विनायक का नाम लिखा है। मामला जरा उलझा हुआ सा है। बाकी महाराज की जिंदगी में उनसे चिपके रहने वाले बड़े वाले नेताओं और तमाम खास लोगों ने उनके आखिरी सफर में दूरी बना ली। बाकी आज भी खबर यहां भरपूर है। पूरे शहर के साथ ही हमीदिया में भी पानी की भयंकर कमी हो गई है। दोनों आइटम लपक आए। महिलाओं से छेड़छाड़ के मामलों पे अनूप दुबे की तथ्यात्मक खबर। माआशरे में बढ़ रहीं खुदकुशी की टेंडेंसी पे अलीम बजमी ने जानदार कलम चलाई। हाउसिंग बोर्ड खुद ही निर्माण के नियम तोड़ रहा है। शैलेंद्र चौहान की भेतरीन खबर।