सागर: प्रदेश में बच्‍चियों के साथ रेप की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं. मंदसौर और सतना के बाद अब सागर से नाबालिग के साथ गैंगरेप की घटना सामने आई है. सागर जिले के गौरझामर थाना अंतर्गत दसवीं में पढ़ने वाली एक आदिवासी नाबालिक छात्रा के साथ सामूहिक दुष्कर्म हुआ है. इस मामले में पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है जिनमें एक महिला भी शामिल है.

नाबालिक छात्रा को देवरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है जहां उसका इलाज जारी है. इस मामले में देवरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के डॉक्टरों की लापरवाही भी सामने आई है जहां पीड़िता को रात में अस्पताल में भर्ती करने के बाद भी उसका उपचार नहीं किया गया. आज आम जनता के हस्तक्षेप के बाद पीड़िता का इलाज शुरू हो पाया है. घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस अधीक्षक सागर घटनास्थल पर पहुंचे. इसी के साथ ही पीड़ित छात्रा को देखने देवरी  से कांग्रेस विधायक हर्ष यादव भी पहुंचे.

मिली जानकारी के मुताबिक, नाबालिक आदिवासी छात्रा अपने घर से मंगलवार सुबह बिना बताए गायब हो गई थी. छात्रा ने बताया कि पास में रहने वाली ममता बाई उसे अपने घर ले गई थी और कमरे में बंद करके बाहर से कुंडी लगा दी. फिर करीब नौ बजे कमरे में राजेश, हल्ले,  गोपाल और प्रवेंद्र पटेल घुसे और उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया. दिन भर छात्रा के साथ दुष्कर्म करने के बाद रात में नाबालिक को चारों दरिंदे राजेश के घर ले गए जहां उन्होंने फिर से उसका रेप किया. रात करीब 11 बजे गांव के ही शिशु मंदिर स्कूल के सामने बेहोशी की हालत में फेंक कर फरार हो गए.

नाबालिक को स्कूल के सामने फेंकते समय लड़की के परिजनों ने उन्‍हें देख लिया जिसके बाद पीड़िता के परिजनों ने उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र देवरी में भर्ती कराया. लेकिन यहां पर परंतु डॉक्टरों ने कागजी कार्यवाही के कारण पीड़िता का रात में उपचार नहीं किया. आज स्थानीय लोगों तथा मीडिया के हस्तक्षेप के बाद  पीड़िता का उपचार शुरू किया गया है.

पीड़ित छात्रा को देखने पहुंचे कांग्रेस से देवरी विधायक हर्ष यादव ने इस मामले में प्रदेश सरकार को जमकर लताड़ा. घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पुलिस अधीक्षक भी पहुंचे और उन्होंने बताया कि इस मामले में पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. आरोपियों में एक महिला भी शामिल है. आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर इस मामले की जांच की जा रही है.