ब्रिस्टल : भारत और इंग्लैंड के बीच हुई टी20 सीरीज के आखिरी मैच में टीम इंडिया ने जीत हासिल कर 2-1 से सीरीज जीत ली.  सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा  के नाबाद 100 रन और करियर के तीसरे शतक और हार्दिक पांड्या (14 गेंदों पर नाबाद 33 रन) की शानदार पारी की बदौलत भारत ने मेजबान इंग्लैंड को रविवार को सात विकेट से हराकर तीन मैचों की टी-20 सीरीज 2-1 से जीत ली. इंग्लैंड ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए नौ विकेट पर 198 रन का मजबूत स्कोर बनाया जिसे भारत ने 18.4 ओवर में तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया.

इंग्लैंड से मिले 199 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने 21 के स्कोर पर शिखर धवन (5) के रूप में अपना पहला विकेट गंवा दिया. शिखर के आउट होने के बाद मैदान पर आए लोकेश राहुल (19) ने रोहित के साथ दूसरे विकेट के लिए 41 रन जोड़े. राहुल का विकेट 62 के स्कोर पर गिरा. इसके बाद रोहित ने कप्तान विराट कोहली (43) के साथ तीसरे विकेट के लिए 89 रन की साझेदारी कर भारत की जीत की नींव रखी.

राहुल ने 10 गेंदों पर एक चौके और दो छक्के लगाए. कोहली का विकेट 151 के स्कोर पर गिरा. उन्होंने 29 गेंदों पर दो चौके और इतने ही छक्के लगाए. कोहली के आउट होने के बाद रोहित ने पांड्या के साथ चौथे विकेट के लिए 50 रन की अविजित साझेदारी कर भारत को 2-1 से सीरीज दिला दी. पांड्या ने 14 गेंदों पर चार चौके और दो छक्के जड़े. रोहित ने 56 गेंदों पर 11 चौके और पांच छक्के लगाए. रोहित का टी-20 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में यह तीसरा शतक है. रोहित को मैन आफ द मैच और मैन आफ द सीरीज का पुरस्कार मिला. इंग्लैंड के लिए डेविड विली, जैक बाल और क्रिस जॉर्डन ने एक-एक विकेट लिए.

इससे पहले, जेसन रॉय (67) के बेहतरीन अर्धशतक की बदौलत इंग्लैंड ने नौ विकेट पर 198 रन का मजबूत स्कोर बनाया लेकिन उसके गेंदबाज इस स्कोर का बचाव नहीं कर सके. टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लैंड को रॉय और जोस बटलर (34) ने पहले विकेट के लिए 94 रन की साझेदारी कर मजबूत शुरुआत दी. रॉय ने 31 गेंदों पर चार चौकों और सात छक्कों की मदद से अपने करियर का तीसरा अर्धशतक पूरा किया.

बटलर ने 21 गेंदों पर सात चौके लगाए. बटलर का विकेट टीम के 94 के स्कोर पर और रॉय का विकेट 103 के स्कोर पर गिरा. रॉय और बटलर के बाद एलेक्स हेल्स (30) और जॉनी बेयरस्टो (25) ने पांचवें विकेट के लिए 37 रन की साझेदारी की. इसके बाद और कोई बड़ी साझेदारी नहीं हो सकी और इंग्लैंड नौ विकेट पर 198 रन तक ही पहुंच पाया. इंग्लैंड ने अंतिम चार ओवरों में 39 रन बनाए जबकि उसने पांच विकेट भी गंवाए. हेल्स ने 24 गेंदों पर तीन चौके और दो छक्के लगाए. बेयरस्टो ने 14 गेंदों पर दो चौके और इतने ही छक्के जड़े. बेन स्टोक्स ने 14 रन का योगदान दिया.

अंतिम तीन ओवर में इंग्लैंड के बने केवल 23 रन
भारत ने अंतिम तीन ओवरों में सिर्फ 23 रन ही दिए और इस वजह से वह मेजबान इंग्लैंड को 200 के नीचे रोकने में सफल रहा. भारत के लिए हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या ने 38 रन देकर सर्वाधिक चार विकेट चटकाए. पांड्या का टी-20 अंतर्राष्ट्रीय मैच में यह सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन है. पांड्या के अलावा सिद्वार्थ कौल ने 35 रन देकर दो विकेट, अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण करने वाले दीपक चहर ने 43 रन देकर एक विकेट और उमेश यादव ने 48 रन देकर एक विकेट लिया.