ब्रिस्टल : भारत और इंग्लै़ंड के बीच हुई टी20 सीरीज के आखिरी मैच में टीम इंडिया ने जीत हासिल कर 2-1 से सीरीज जीत ली. इस मैच में इंग्लैंड के 198 रनों की चुनौती के जवाब में टीम इंडिया की ओर से रोहित शर्मा ने शानदार शतक लगाते हुए अपनी टीम को जीत दिला दी. टीम की जीत में रोहित के शतक के अलाना हार्दिक पांड्या को दोहरा प्रदर्शन और टीम के कप्तान विराट कोहली की शानदार 43 रनों की पारी का भी अहम योगदान रहा. हार्दिक ने पहले गेंदबाजी में 34 रन दे कर 4 विकेट लिए फिर 14 गेंदों पर 33 रनों की शानदार पारी भी खेली.

मैच के बाद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने कहा, “गेंदबाजों की वापसी शानदार रही. एक समय लग रहा था कि वे 225 या 230 रन बोर्ड पर लगा देंगे जो कि कठिन होता. लेकिन जिस तरह का चरित्र हमारे गेंदबाजों ने दिखाया, उस पर हमें गर्व है. हम सही एरिया में गेंद मार सके खासकर आखिरी 10 ओवरों में. हमारे पास विकेट लेने वाली गेंद करने की क्षमता भी है. हमें बल्लेबाजों पर सही दबाव बनाया और बढ़िया तरीके खेल छीन लिया. 25-30 रन का अंतर इस प्रारूप में बहुत बड़ा हो जाता है.

पांड्या काफी शानदार ऑलराउंडर हैं. वह अपने गेंद और बल्ले की क्षमता से काफी कॉन्फिडेंट है. वह उसमें निश्चित होता है जो वह करना चाहता है. पहले ओवर में छक्के चौके खाने के बाद गेंद के साथ जिस तरह उसने विकेट लिए, उसका ऑलराउंड प्रदर्शन बेहतरीन रहा. ईमानदारी से कहूं तो गेंदबाजों के लिए मुश्किल था. पिच वाकई काफी सपाट थी. बल्लेबाजों के तौर पर हमें काफी मजा आया. उन्होंने 200 रन बनाए और हम वहां पहुंच गए और हमारे पास कई गेंदें भी बच गईं. यह कहना ठीक न होगा कि हम एक और गेंदबाज के साथ खेलते तो अच्छा होता, हमारे लड़के काफी बढ़िया खेले. हम इस तरह से जारी रहेंगे और प्रयोग करते रहेंगे. मैदान पर हमारी उर्जा और नजरिया अच्छा था. दौरे की शुरुआत में सीरीज जीतना बढ़िया अहसास था.

उल्लेखनीय है कि इस मैच में दोनों ही टीमों ने पहले 15 ओवर में 150 रन बोर्ड पर लगाने में कामयाबी हासिल कर ली थी. लेकिन टीम इंडिया के गेंदबाजों ने आखिरी 5 ओवर में शानादर गेंदबाजी की जिससे मैच का नतीजा अलग रहा. अंतिम तीन ओवर में भारत ने जहां 23 रन दिए वहीं आखिरी ओवर में इंग्लैंड केवल 7 रन बना पाई. इस ओवर में इंग्लैंड ने दो विकेट गंवाए जिसमें आखिरी गेंद पर रन आउट भी शामिल था.

इस सीरीज में टीम इंडिया ने पहले मैच में 8 विकेट से जीत हासिल की थी जिसके बाद इंग्लैंड ने वापसी करते हुए दूसरे मैच में 5 विकेट से जीत पाई थी. इस तरह से सीरीज का यह मैच फाइनल की तरह खेला गया. अब भारत को 12 जुलाई से इंग्लैंड के साथ तीन मैचों की वनडे सीरीज खेलनी है. इसके बाद टीम इंडिया को 1 अगस्त से इंग्लैंड के ही खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज भी खेलना है.