पेशावरः  बढ़ती आतंकी गतिविधियों को लेकर  पाक अधिकृत कश्‍मीर (Pok)  के रावलकोट सिटी में स्‍थानीय लोगों ने  प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारी  राजनीतिक कार्यकर्ताओं और स्‍थानीय लोगों का कहना है कि यहां आतंकी गतिविधियों के लिए सीधे-सीधे इस्‍लामाबाद की सरकार जिम्‍मेदार है, जो लश्‍कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्‍मद जैसे आंतकी संगठनों को प्रशिक्षण देती है और उन्‍हें शह देती है।

PoK  में 26 अप्रैल, 2018 को जेकेएलएफ कार्यकर्ता नईम बट्ट को इंसाफ दिलाने व रावलकोट के डिप्टी कमिश्‍नर के तत्काल निलंबन की मांग को लेकर प्रदर्शन किया था।  इससे पहले पाकिस्‍तान सेना के जुल्‍मों के खिलाफ 17 मार्च, 2018 को पीओके में लोगों ने प्रदर्शन किया था। प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिए पाकिस्‍तानी सेना ने उन पर गोलियां और आंसू गैस के गोले दागे थे। इनका आरोप है कि पाक सेना बिना वजह लोगों को घरों से उठा लेती है और बाद में उन्‍हें मार देती है।