थाईलैंड: दो सप्ताह से अधिक समय से उत्तरी थाईलैंड की थाम लुआंग गुफा में फंसे 12 लड़कों और उनके सहायक फुटबॉल कोच को बाहर निकालने  का काम लगभग पूरा होने वाला है। टीवी रिपोर्ट के अनुसार 11 बच्चों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। ‘‘वाइल्ड बोर्स ’’ नाम की यह फुटबॉल टीम गुफा में 23 जून से फंसी है। ये लोग अभ्यास के बाद वहां गए थे और भारी मानसूनी बारिश की वजह से गुफा में काफी पानी भर जाने के बाद वहां फंस गए।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर कहा, बच्चों को गुफा से बाहर निकालने के लिए अमेरिका थाईलैंड सरकार के साथ मिलकर काम कर रही है। ये लोग बेहद साहसी और प्रतिभावान हैं।

The U.S. is working very closely with the Government of Thailand to help get all of the children out of the cave and to safety. Very brave and talented people!

— Donald J. Trump (@realDonaldTrump) July 8, 2018

गुफा के बाहर हेलीकॉप्टरों भी रखे गए हैं, ताकि कोई इमरजेंसी की स्थिति में छात्रों और उनके कोच को एयरलिफ्ट किया जा सके। वही थाईलैंड के गर्वनर ने गुफा से बाहर निकाले गए छात्रों से मुलाकात की। चियांग राय ने बताया कि गुफा से बाहर निकाले गए छह छात्रों से मुलाकात की, अंधेरा होने के कारण रातभर के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन रोक दिया गया है। गुफा से निकाले गए बच्चों को हेलिकॉप्टर की मदद से पास के चियांग राई शहर पहुंचाया गया जहां पहले से मौजूद एम्बुलेंस की मदद से उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया।

सोमवार सुबह अन्य छात्रों और कोच को निकालने के लिए बचाव दल रेस्क्यू ऑपरेशन फिर शुरू करेगा। ऑपरेशन खत्म होने के बाद चियांग ने बताया कि बच्चों का स्वास्थ्य ठीक है और रविवार के दिन को रेस्क्यू के लिए बेस्ट सिचुएशन कहा। बता दें कि 50 विदेशी और 40 थाई डाइवर्स की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

Chiang Rai: #Visuals from outside the hospital where six boys of a soccer team rescued from flooded Thai cave are undergoing treatment. #Thailand pic.twitter.com/MhzbOOmy1e

— ANI (@ANI) July 8, 2018

इस घटना ने समूचे थाईलैंड और दुनियाभर का ध्यान अपनी तरफ खींचा है। अधिकारी लगातार लड़कों और उनके कोच को बाहर निकालने के लिए संघर्ष कर रहे थे। यहां तक कि आस्ट्रेलिया और अमरीका गोताखोरों को विशेष तौर पर मदद के लिए बुलाया गया था। बचाव अभियान के प्रमुख नारोंगसाक असोतानाकोर्न ने पत्रकारों से कहा , ‘‘ आज बच्चों को बाहर निकालने के काम को अंजाम दिया जाएगा। लड़के किसी भी चुनौती का सामना करने को तैयार हैं।

उन्होंने कहा कि स्थानीय समयानुसार रात 9 बजे पहले बच्चे को गुफा से बाहर निकाले जाने की संभावना है। इस पूरे कार्य में करीब 11 घंटे का समय लगेगा। अधिकारियों से आज सुबह मीडिया से कहा था कि वे गुफा के पास स्थित शिविर के पास की जगह को खाली कर दें। उन्होंने मीडियाकर्मियों को वहां से जाने को कहा जिससे ‘‘ पीड़ितों ’’ की मदद की जा सके। पुलिस ने इस जगह लाउडस्पीकर से घोषणा की , ‘‘ सभी लोग जो अभियान से जुड़े नहीं हैं तत्काल इस इलाके से बाहर चले जाएं।