पर्यावरण को साफ रखने के लिए दुनिया की सबसे बड़ी कॉफी कंपनी स्टारबक्स ने एेलान किया है कि वह 2020 तक वैश्विक स्तर पर अपने 28 हजार स्टोर्स से प्लास्टिक के स्ट्रॉ को खत्म कर देगा। स्टारबक्स के ग्राहकों ने भी प्लास्टिक स्ट्रॉ के इस्तेमाल का विरोध किया था जिस कारण कंपनी को यह कदम उठाना पड़ा।

कंपनी ने क्यों उठाया कदम
स्टारबक्स के उपाध्यक्ष कॉलीन चैपलैन ने अपने बयान में कहा कि हमारे पार्टनर्स और ग्राहकों द्वारा अनुरोध करने की वजह से कंपनी को यह निर्णय लेना पड़ा। सिएटल स्थित इस कंपनी ने सोमवार को कहा कि प्लास्टिक के स्ट्रॉ के बदले वह अन्य सामग्रियों से बने स्ट्रॉ का इस्तेमाल करेगा।

मैकडॉनल्ड्स ने भी उठाया था एेसा कदम
हाल ही में मैकडॉनल्ड्स ने कहा था कि वह ब्रिटेन और आयरलैंड में अगले साल से कागज से बने स्ट्रॉ का इस्तेमाल करेगा। पर्यावरण विशेषज्ञ भी प्लास्टिक के स्ट्रॉ को खत्म करने पर जोर दे रहे हैं क्योंकि उनका मानना है कि प्लास्टिक के पदार्थ जब समुद्र में फेंके जाते हैं तो समुद्री जीवों को बहुत नुक्सान पहुंचता है।

सिएटल में लगाया गया था बैन
स्थानीय सरकारें भी इस मुद्दे को गंभीरता से देख रही हैं। पिछले हफ्ते सिएटल में खाने-पीने की दुकानों पर एक ही बार उपयोग होने वाले प्लास्टिक स्ट्रॉ और बर्तनों पर प्रतिबंध लगाए गए थे। अगर देखा जाए तो प्लास्टिक कचरे का लगभग 4 फीसदी हिस्सा प्लास्टिक स्ट्रॉ का होता है। 9 मिलियन टन प्लास्टिक कचरे में लगभग 2,000 टन कचरा सिर्फ प्लास्टिक स्ट्रॉ का होता है।