नई दिल्ली: राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और नव नियुक्त भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदनलाल सैनी ने मंगलवार को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की और प्रदेश संगठन में संभावित बदलाव के बारे में चर्चा की. पार्टी सूत्रों ने बताया कि यह बैठक अमित शाह के आवास पर हुई और एक घंटे से अधिक समय तक चली. बैठक का मुख्य एजेंडा प्रदेश में पार्टी संगठन को मजबूत बनाने के संबंध में बदलाव से जुड़ा था.

बैठक के दौरान नेताओं ने राजस्थान में आसन्न विधानसभा चुनाव की रणनीति के बारे में चर्चा की. इस बैठक में वसुंधरा राजे और सैनी के अलावा भाजपा प्रदेश संगठन सचिव चंद्रशेखर और राष्ट्रीय संयुक्त महासचिव वी सतीश मौजूद थे. राजस्थान में नए प्रदेश अध्यक्ष की नियुक्ति के बाद वसुंधरा राजे और अमित शाह के बीच यह पहली बैठक थी. उल्लेखनीय है कि राजे और शाह के बीच कई दौर की बातचीत के बाद राजस्थान प्रदेश भाजपा अध्यक्ष के पद पर मदनलाल सैनी की नियुक्ति जून में ही हुई थी.

अमित शाह के घर हुई इस बैठक में प्रदेश में चुनावी रणनीति पर भी लंबी वार्ता हुई. सैनी ने चुनाव समितियों, प्रदेश कार्यकारिणी, संगठन में बदलाव, सुराज संदेश यात्रा को लेकर चर्चा की. साथ ही इस दौरान अमित शाह की रैली करवाने को लेकर भी उनकी सहमति ली गई.

सैनी की नियुक्त को राज्य में प्रभाव वाले राजपूत और जाट समुदाय के बीच संतुलन स्थापित करने की पार्टी नेतृत्व की कवायद के रूप में देखा जा रहा है. इससे पहले प्रदेश अध्यक्ष पद के लिए केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत के नाम की भी चर्चा थी. शेखावत को पार्टी हाइकमान की पसंद बताया जा रहा था लेकिन इसको लेकर मतभेद की स्थिति उत्पन्न हो गई थी. इस विषय पर कई दौर की वार्ता के बाद सैनी का नाम उभर कर आया. सैनी माली समुदाय से आते हैं.