पेशावर: पाकिस्तान के पेशावर शहर में मंगलवार-बुधवार की रात एक चुनावी बैठक में हुए संदिग्ध आत्मघाती विस्फोट में अवामी नेशनल पार्टी (एएनपी) के नेता हारून बिल्लौर सहित कम से कम चार लोग मारे गए. न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक सुसाइड अटैकर की ओर से किए गए धमाके में कारीब 14 लोगों की जान चली गई है. इसके अलावा करीब 65 लोग घायल हुए हैं, जिन्हें अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. ज्यादातर घायलों को लेडी रीडिंग अस्पताल भेजा गया है.

विस्फोट तब हुआ जब बिल्लौर और ए एन पी के कार्यकर्ता पार्टी की एक बैठक के लिए एकत्र हुए. बिल्लौर के मंच पर पहुंचने पर वहां पटाखे चलाए जा रहे थे कि तभी एक आत्मघाती हमलावर ने खुद को विस्फोट से उड़ा लिया. डॉन अखबार के मुताबिक विस्फोट में बिल्लौर गंभीर रूप से घायल हो गए. उन्हें अस्पताल ले जाया गया जहां उन्होंने दम तोड़ दिया. राहत एवं बचाव टीम घटनास्थल पर हैं और घटना की जांच शुरू कर दी गई है.

As many as 14 people including prominent local politician Haroon Bilour, were killed in a suicide bomb attack at an election rally in Pakistan's Peshawar

Read @ANI Story | https://t.co/Q4U5eJJ3RA pic.twitter.com/kLzfsfeZY9

— ANI Digital (@ani_digital) July 10, 2018

बिल्लौर के पिता एवं एएनपी के वरिष्ठ नेता बशीर अहमद बिल्लौर भी 2012 में पेशावर में पार्टी की एक बैठक के दौरान तालिबान के हमलावर द्वारा किए गए आत्मघाती हमले में मारे गए थे.

इस धमाके पर पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के प्रमुख इमरान खान ने ट्वीट कर कहा, 'हारून बिल्लौर और अन्य एएनपी श्रमिकों की मौत के बारे में जानकर दुख हुआ. पेशावर में हुए इस धमाके की निंदा करते हैं.'

Sad to learn of Haroon Bilour and 2 other ANP workers deaths and strongly condemn the terrorist attack at the ANP corner mtg in Peshawar. All political parties and their candidates must be provided proper security during their election campaigns by the State.

— Imran Khan (@ImranKhanPTI) July 10, 2018

मालूम हो कि पाकिस्तान में चुनावी सभाओं के दौरान धमाके की घटनाएं पहले भी हो चुके हैं. दिसंबर 2007 में चुनाव प्रचार के दौरान ऐसे ही एक धमाके में पाकिस्तान की पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो की हत्या कर दी गई थी.