रायपुर: राजनीति में रिश्तों नातों से ज्यादा अहमियत समीकरणों को दी जाती है. हमने कितनी बार देखा है कि एक ही परिवार को दो सदस्य अलग-अलग पार्टी से चुनाव लड़ते हैं. ग्वालियर का सिंधिया परिवार इसका उदाहरण है. लेकिन पति अपनी पार्टी बनाकर चुनाव मैदान में हो, लेकिन पत्नी दूसरी पार्टी से टिकट मांगे यह शायद पहली बार देखने को मिला है. बात छत्तीसगढ़ चुनाव की हो रही है. छत्तीसगढ़ में 2018 के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं.

पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (जोगी) बनाकर कांग्रेस के खिलाफ ताल ठोक रहे हैं लेकिन उनकी पत्नी डॉ. रेणु जोगी कांग्रेस से टिकट मांगा है. रेणु के इस सियासी फैसले पर जब अजीत जोगी से प्रतिक्रिया ली गई तो उनका कहना था कि रेणु अपने फैसले लेने के लिए स्वतंत्र हैं.

रेणु वर्तमान में कोटा विधानसभा सीट से कांग्रेस की विधायक हैं और उन्होंने कोटा सीट से फिर से अपनी दावेदारी पेश की है. रेणु हर बार यही कहती रहीं कि अभी वह कांग्रेस में हैं और पार्टी के लिए काम करेंगी. रेणु ने यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी से अपने बेहतर संबंधों का हवाला भी दिया है. हालांकि अजीत जोगी के अलग पार्टी बनाने के बाद से प्रदेश कांग्रेस के नेता उनसे किनारा कर चुके हैं. रेणु की इस पैंतरे से प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारी हैरान हैं और उनके टिकट के दावे को खारिज करने में जुट गए हैं. सूत्रों के मुताबिक, कोटा से रेणु जोगी का टिकट काटने के लिए ही छत्तीसगढ़ पुलिस में डीएसपी रहे विभार सिंह से इस्तीफा दिलवाया गया है.

रेणु के इस राजनीतिक पैंतरे के निहितार्थ निकाले जा रहे हैं. हालांकि अभी तक पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी सार्वजनिक तौर पर कहते रहे हैं कि रेणु समय आने पर उनके साथ आएंगी. लेकिन रेणु ने अपने ताजा फैसले से सबको हैरान कर दिया है. हालांकि जोगी के बेटे अमित जोगी भी कांग्रेस विधायक हैं लेकिन वह खुलकर अपने पिता की नवगठित पार्टी के लिए काम कर रहे हैं. रेणु जोगी ने पति अजीत जोगी के साथ मंच साझा करने से हमेशा परहेज किया है. 

कांग्रेस के ही कुछ नेता इसके पीछे अजीत जोगी रणनीति को जिम्मेदार मान रहे हैं. उनका कहना है कि जोगी चाहते हैं कि रेणु का संबंध कांग्रेस से पूरी तरह से न टूटे ताकि भविष्य में उनकी कांग्रेस में वापसी की उम्मीद बनी रहे. अगर छत्तीगढ़ चुनाव में जोगी की पार्टी को कामयाबी नहीं मिली तो रेणु के माध्यम से वह कांग्रेस हाईकमान से बातचीत कर सकते हैं.