आंख से दूर सही दिल से कहां जाएगा, जाने वाले तू हमें याद बहुत आएगा। करुणानिधि दुनिया-ए-फानी से अलविदा हो गए। जो नेता कभी सांसद नहीं बना उसके लिए संसद स्थगित हुई। दतिया में दुष्कर्म के आरोपी को चार दिन में उम्रकैद की सजा हुई। इसी तेजी की जरूरत है साब। यहीं एक खबर है जिसमें महावीर मेडिकल कॉलेज पे दो करोड़ का जुर्माने को भोपाल का बताया गया है। हकीकत ये है कि ये कालिज भोपाल का न होकर तेलंगाना का है। ये खबर भोपाल के पत्रकार रवीन्द्र जैन के पास भी आई थी लेकिन उन्होंने सुप्रीम कोर्ट की वेबसाइट पर जाके कंफर्म किया तो पता चला कि ये मामला भोपाल का है ही नहीं। दअरसल भोपाल का महावीर मेडिकल कालिज तो अभी शुरु ही नहीं हुआ है। कमाल है अपन इत्ते बड़े अखबार के बावजूद इत्ती बड़ी चूक कर रहे हैं। इस दौर में संताने अपनी मां का बोझ नहीं उठा रहीं। अलीम बजमी ने इस मुद्दे पर नायाब कलम चलाई। बजमी ने पौराणिक कहानियों के सटीक उदाहरण दिए।